इस्तीफे से पहले राष्ट्रपति गोटबाया ने रखी शर्त, बोले- परिवार सहित देश से बाहर जाने दिया जाए

श्रीलंका में हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं. इस्तीफा देने से पहले राष्ट्रपति गोटबाया ने एक शर्त रखी है.

Sri Lanka Crisis: श्रीलंका में हालात बद से बदतर हो गए हैं. इसी राजनीतिक घटनाक्रम में हाल ही में एक बड़ी खबर सामने आई है. राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने इस्तीफा देने से पूर्व एक शर्त रखी है. उन्होंने परिवार समेत खुद के लिए सुरक्षा की मांग करते हुए कहा कि वह देश से बाहर जाना चाहते हैं, ऐसे में सुरक्षा की गारंटी दी जाए. गोटबाया ने 3 दिन पहले ही ऐलान कर दिया था कि वह 13 जुलाई को अपने पद से इस्तीफा दे देंगे. हाल ही में उनके द्वारा रखी गई नई शर्तों ने एक बार फिर से माहौल गर्म कर दिया है. खबर यह भी है कि गोटबाया सोमवार को इस्तीफे के पेपर दस्तखत कर चुके हैं लेकिन स्पीकर इसका ऐलान कल करेंगे.

3 दिन पहले राष्ट्रपति की ओर से स्पीकर को स्पीच की जानकारी दी गई थी. लेकिन पिछले दो दिनों में इस्तीफे को लेकर कोई भी जिक्र नहीं किया गया. बुधवार को राजपक्षे इस्तीफा देने वाले हैं लेकिन इससे पहले उन्होंने अपनी और परिवार के लिए देश से बाहर जाने को लेकर सुरक्षा मांगी है.

Must Read- KKK12: बढ़ेगा डेंजर जोन, रोहित शेट्टी का अत्याचारी वीक छुटवा देगा कंटेस्टेंट्स के पसीने, देखें प्रोमो

बता दें कि बीती रात राजपक्षे के भाई और पूर्व वित्त मंत्री बासिल राजपक्षे ने देश छोड़ने की कोशिश की थी. लेकिन एयरपोर्ट पर इमीग्रेशन स्टाफ ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया जिसके चलते उन्हें वापस लौटना पड़ा. बासिल श्रीलंका के पूर्व वित्त मंत्री हैं उन्होंने हाल ही में इस्तीफा दिया था. राजपक्षे के खिलाफ श्रीलंका में जमकर आक्रोश देखा जा रहा है. जिसके चलते यह कहा जा रहा है कि परिवार जल्द ही देश छोड़कर भागने की कोशिश करेगा.

अपने परिवार पर दिख रहे खतरे के चलते राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे ने इस्तीफा देने से पहले शर्त रख दी है. अगर वह इस्तीफा नहीं देते हैं तो कोलंबो में हालात और भी खराब होने की संभावना है. यह भी कहा जा रहा है कि जब तक राजपक्षे को उनके परिवार समेत देश से बाहर जाने की सुरक्षा नहीं दी जाती, तब तक वह इस्तीफा नहीं देंगे. इस मामले में विपक्ष से बात चल रही है लेकिन कोई भी इस सुझाव से सहमत नहीं है. गोटबाया ने 3 दिन पहले स्पीकर से इस्तीफे को लेकर बात की थी लेकिन पिछले 40 घंटे के दौरान उन्होंने इस संबंध में कुछ भी नहीं कहा है.