रात 12 बजे केक काटते हैं तो हो जाएं सावधान, हो सकता है बहुत बुरा

0
70
homemade oreo biscuit cake

आज के दौर में चलन हो गया है कि बर्थ डे हो या किसी की शादी की सालगिरह उसे रात के 12 बजे ही मना लेते है। रात को 12 बजे केक काटना नया ट्रेंड बन गया है। लेकिन ज्योतिष्य शास्त्रों में इसे सबसे अशुभ बताया गया है। मान्यताओं के अनुसार ऐसा करने से कोई भी बड़ा अनिष्ट हो सकता है। आइए जानते है कि किन कारणों से रात को 12 बजे बर्थ डे या सालगिरह मनाना अशुभ होता है।

1- शास्त्रों के अनुसार 12 बजे काल रात्रि का वह निशिधकाल है जो रात 12 बजे से रात्रि 3 बजे की बीच होता है। आम लोग इसे इसे मध्यरात्रि या अर्ध रात्रि काल कहते हैं। शुभ कार्यों के लिए यह समय शुभ नहीं माना जाता है।

2- शास्त्रों के अनुसार अर्द्धरात्रि के वक्त धरती पर बुरी शक्तियां सक्रिय हो जाती हैं। इस समय में यह शक्ति अत्यधिक रूप से प्रबल हो जाती हैं। हम जहां रहते हैं वहां कई ऐसी शक्तियां होती हैं, जो हमें दिखाई नहीं देतीं, लेकिन हम पर प्रतिकूल प्रभाव डालती हैं, जिससे हमारा जीवन अस्त-व्यस्त हो सकता है।

3- जन्मदिन की पार्टी में अक्सर लोग प्रेतकाल में केक काटकर सेवन करते हैं। ऐसा करने से अदृश्य शक्तियां व्यक्ति की आयु व भाग्य में कमी करती हैं और दुर्भाग्य उसके द्वार पर दस्तक देता है। ये नकारात्मक शक्तियां व्यक्ति को गंभीर रूप से बीमार भी बना सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here