Homeदेशदिल्लीसंसद में पत्रकारों के प्रवेश पर रोक, कल होगा पत्रकारों का संसद...

संसद में पत्रकारों के प्रवेश पर रोक, कल होगा पत्रकारों का संसद मार्च!

देश के जाने माने संपादक, पत्रकार फोटो जर्नालिस्ट और संसद के दोनों सदनों को कवर करने वाले रिपोर्टर कल दोपहर 1 बजे प्रेस क्लब में संसद मार्च करेंगे।

देश के जाने माने संपादक, पत्रकार फोटो जर्नालिस्ट और संसद के दोनों सदनों को कवर करने वाले रिपोर्टर कल दोपहर 1 बजे प्रेस क्लब में संसद मार्च करेंगे। क्योंकि संसद में उनके प्रवेश पर रोक लगा दी है। ऐसे में ये सभी हल प्रेस क्लब ऑफ इंडिया से संसद तक विरोध प्रदर्शन और मार्च करेंगे।

बताया गया है कि ये सभी लोग संसद के स्थायी पास धारक पत्रकारों के संसद परिसर तथा दोनों सदनों की प्रेस गैलरी में प्रवेश की मांग कर रहें हैं। क्योंकि सरकार ने उनके प्रवेश पर रोक लगा दी है और केवल चुनिंदा लोगों को अनुमति दे रही है। ऐसे में पत्रकारगण कल लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और राज्यसभा के सभा पति एम वेंकैया नायडू को इस बारे में एक ज्ञापन भी देंगे और अपनी मांग रखेंगे।

इनकी मांगें –

इनकी मांग है कि जिन पत्रकारों के पास स्थायी पास है ,उन्हें संसद परिसर तथा राज्यसभा और लोकसभा की पत्रकार दीर्घा में प्रवेश की अनुमति दी जाए ताकि वे पहले की तरह सदन की कार्यवाही नियमित रूप से कवर कर सकें।

Must Read: Indore Weather : सुबह 8.30 बजे तक इंदौर में हुई 10 मिलीमीटर बारिश

इनकी मांग है कि जुलाई में लोकसभा अध्यक्ष ने यह निर्णय लिया था कि स्थायी पास धारकों को संसद कवर करने के लिए पत्रकार दीर्घ के पास पहले की तरह बनेंगे,उस फैसले को लागू किया जाय। साथ ही ये लोग यह भी मांग करते हैं कि संसद के सेंट्रल हाल के पास बनने पर जो पाबंदी लगी है उसे हटाकर पहले की तरह नए पास बनाएँ जाएं।वरिष्ठ पत्रकारों की लंबी सेवाओं कोदेखते हुए इस सुविधा को बहाल किया जाए।

इनकी यह भी मांग है कि दीर्घावधि समय तक संसद कवर करनेवाले पत्रकारों के विशेष स्थायी पास फिर से पहले की तरह बने जो उनके पेशे की गरिमा और सम्मान के अनुरूप है। फिलहाल सरकार ने इस पर भी रोक लगा रखी है।

इनकी यह भी मांग है कि जिन पत्रकारों को सत्र की पूरी अवधि के लिए जो पास बनते थे, उन्हें पहले की तरह पास बनाएं जाएं ताकि वे सदन की कार्यवाही कवर कर सकें क्योंकि सरकार द्वारा पत्रकारों के प्रवेश पर रोक लगने से उनकी नौकरी और सेवा पर भी असर पड़ा है जिससे उन्हें छंटनी का भी सामना करना पड़ा है।

बताया जा रहा है किसभी संपादकों , ब्यूरो चीफ तथा पत्रकारों संवाददाताओं प्रेस छायाकारों से अपील है कि वे अधिक से अधिक संख्या में आकर इस मार्च को सफल बनायें ताकि सरकार पर दवाब डाला जा सके और हमें हमारा अधिकार मिले।लोकतंत्र को मजबूत बनाने और प्रेस की स्वतंत्रता के लिए पत्रकारों को संसद कवर करने का अवसर पहले की तरह मिले। प्रेस क्लब ऑफ इंडिया ,एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया, प्रेस एशोसिएशन ,इंडियन वोमेन्स प्रेसकोर दिल्ली पत्रकार संघ और वर्किंग न्यूज़ कैमरामैन एसोसिएशन ।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular