कहीं आप भी तो नहीं खा रहे बदबूदार पदार्थों से बना गुड़

प्रशासन की टीम जब मौके पर पहुंची तो वहां का नजारा देखकर दंग रह गई। वहां बेहद गंदे बदबूदार पदार्थों में केमिकल्स मिलाकर गुड बनाया जा रहा था।

0
row sugar

नरसिंहपुर। नरसिंहपुर की करेली में दूषित पदार्थों से गुड़ बनाने और इन्हें बाजार में बेचने के आरोप में दो लोगों पर कार्रवाई की गई है। दरअसल बीते 15 तारीख को प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर इन दोनों गुड़ भट्टियों पर छापामार कार्यवाही की थी और अवैध अमानक गुड़ को जब्त कर सैंपलिंग की थी। इस दौरान भट्टियों पर मजदूर बेहद गंदे तरीके से दूषित पदार्थों के माध्यम से गुड़ बना रहे थे।

दरअसल सलीम खान निवासी मुजफ्फरपुर, उत्तर प्रदेश और पवन यादव निवासी मड़ेसुर जिला नरसिंहपुर आम किसानों से लीज पर गुड़ भट्टी लेकर ज्यादा मुनाफा कमाने के चक्कर में दूषित पदार्थों से गुड़ बना रहे थे। सूचना मिलने पर कलेक्टर दीपक सक्सेना एवं पुलिस अधीक्षक गुरु करण ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए दोनों आरोपियों के खिलाफ रासुका के तहत मामला दर्ज कर जेल भेज दिया है।

प्रशासन की टीम जब मौके पर पहुंची तो वहां का नजारा देखकर दंग रह गई। वहां बेहद गंदे बदबूदार पदार्थों में केमिकल्स मिलाकर गुड बनाया जा रहा था।

कलेक्टर दीपक सक्सेना ने बताया कि वह जगह इतनी बदबूदार थी कि वहां खड़ा होना भी मुश्किल था। जिस पदार्थों से गुड़ बनाया जा रहा था वह मानव स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। कुल मिलाकर जहर परोसने का काम किया जा रहा था। इस कारण दोनों गुड भट्टी संचालकों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत मामला दर्ज कर सेंट्रल जेल जबलपुर भेज दिया है। इन दोनों भट्टियों से लगभग 12000 क्विंटल अमानक गुड़ भी जप्त किया गया है जिसे डिस्पोज किया गया।