महाराष्ट्र : उद्धव ठाकरे से विधायकों के बाद अब सांसदों ने भी बनाई दूरियां, 19 में से बैठक में शामिल हुए सिर्फ 10

विधायकों के बाद अब सांसदों ने भी बनाई उद्धव ठाकरे से दूरियां,19 सांसदों में से बैठक में शामिल हुए सिर्फ 10 सांसद। मुंबई और ठाणे सहित कई निगमों के पार्षदों ने भी छोड़ा था उद्धव ठाकरे का साथ

बीते महीने से लेकर अब तक उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के लिए एक बहुत ही आधातपूर्ण दौर चल रहा है। शिवसेना के अधिकतम विधायकों की एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में हुई बगावत से पिछले दिनों उद्धव ठाकरे सरकार को इस्तीफा देने के लिए मजबूर होना पड़ा, जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी के सहयोग से एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) महाराष्ट्र के नवीन मुख्यमंत्री बने। जानकारी के अनुसार अब शिवसेना के सांसद भी उध्दव ठाकरे खेमा छोड़कर बीजेपी के सुर में अपना सुर मिलाने जा रहे हैं।

Also Read-बीजेपी नेता का ट्वीट वायरल, मंत्री बोले- ‘पत्नी की तलाश में हूं’

उद्धव ठाकरे की बैठक में पहुंचे 19 में से सिर्फ 10 सांसद

जानकारी के अनुसार महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अपने निवास स्थान मातोश्री में शिवसेना सांसदों की बैठक आयोजित की है। सूत्रों के अनुसार इस बैठक में शिवसेना के 19 सांसदों में से सिर्फ 10 सांसद ने ही हिस्सा लिया। जानकारी के अनुसार उद्धव ठाकरे की बैठक में जो सांसद उपस्थित हुए हैं उनके नाम हैं गजानन कीर्तिकर, अरविंद सावंत, विनायक राउत, हेमंत गोडसे, धैर्यशील माने और राहुल शेवाले। शिवसेना के 9 अन्य सांसद इस बैठक में शामिल नहीं हुए, जिसके की राजनैतिक कयास लगाए जा रहे हैं।

Also Read-गुजरात में चल रहा था नकली आईपीएल, रूस से लगाया जा रहा था सट्टा

मुंबई और ठाणे सहित कई निगमों के पार्षदों ने भी छोड़ा साथ

उद्धव ठाकरे के लिए वर्तमान समय किसी बुरे सपने से कम साबित नहीं हुआ है। शिवसेना के विधायकों की एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में हुई बगावत जिसके बाद उद्धव ठाकरे को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। उसके बाद एकनाथ शिंदे का महाराष्ट्र का सीएम बनना उद्धव ठाकरे को बड़ा आघात देने वाला परिवर्तन था। आघात यहीं नहीं रुके ,मुंबई और ठाणे सहित कई निगमों के शिवसेना के अधिकतम पार्षदों ने भी पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का साथ छोड़ एकनाथ शिंदे का दामन थाम लिया था। अब सांसदों के भी शिवसेना से बगावत करके बीजेपी में शामिल होने से उद्धव ठाकरे को बड़ा झटका लगने वाला है।