शेयर बाजार को रास नहीं आया बजट, पेट्रोल-डीजल के भी दाम बढ़े

0

केन्द्र की मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल का पहला बजट शुक्रवार को लोकसभा में पेश किया है। जिसमें व्यापारियों, किसानों और महिलाओं आदि के लिए कई योजनाओं का ऐलान किया गया है। वहीं अब वित्त मंत्री निर्माला सीतारमण द्वारा पेश किए गए बजट का बाजार पर असर दिखना शुरू हो गया है। जिसके चलते पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी देखी गई है।

बता दे कि भारतीय शेयर बाजार में बजट के बाद भारी गिरावट देखी गई है। शेयर बाजार की शुरूआत 40 हजार के स्तर पर हुई थी। लेकिन बजट के बाद बाजार में कमी आई और बाजार निजले स्तरों पर बंद हुआ। सेंसेक्स में 394.67 अंक की गिरावट आई है और 39513.39 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी भी 135.60 अंक गिरकर 11,811.15 के स्तर पर बंद हुआ।

इसके अलावा पेट्रोल-डीजल के मामले में भी आम जनता को बड़ा झटका लगा है और इसके दामों में बढ़ोतरी हो गई है। बता दे कि पेट्रोल की कीमत में 2.50 रुपये प्रति लीटर और डीजल के दामों में 2.30 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हुई है। इसके अलावा बजट के चलते कई चीजें मंहगी हुई है साथ ही कई वस्तुओं पर लोगों को राहत दी गई है।

ये चीजे हुई महंगी –

बता दें कि बजट लागू होने के बाद तंबाकू उत्पाद भी महंगे हो जाएंगे. सोने के अलावा चांदी और चांदी के आभूषण भी महंगे हो जाएंगे. इसके अलावा सबसे ज्यादा असर ऑप्टिकल फाइबर, स्टेनलेस उत्पाद, एसी, लाउडस्पीकर, वीडियो रिकॉर्डर, सीसीटीवी कैमरा, वाहन के हॉर्न, सिगरेट आदि महंगा हो जाएगा.

ये चीजे हुई सस्ती-

निर्मला सीतारमण के इस बजट के बाद साबुन, शैंपू, बालों का तेल, टूथपेस्ट, बिजली का घरेलू सामान जैसे पंखे, लैम्प, ब्रीफकेस, यात्री बैग, सेनिटरी वेयर, बोतल, कंटेनर, रसोई में प्रयुक्त सामान लैसे बर्तन, गद्दा, बिस्तर, चश्मों के फ्रेम, बांस का फर्नीचर, पास्ता, धूपबत्ती, नमकीन, सूखा नारियल, सैनिटरी नैपकिन भी सस्ता होगा.