प्रवासी भारतीयों के सम्मेलन के लिए चाहिए इंदौर में 7000 कमरे

जनवरी के पहले दूसरे हफ्ते में होने वाले तीन दिवसीय प्रवासी भारतीय सम्मेलन में आने वाले सात हजार मेहमानों के लिए पूरे इंदौर में कमरों का इंतजाम करना मुश्किल हो रहा है।

इंदौर, राजेश राठौर। जनवरी के पहले दूसरे हफ्ते में होने वाले तीन दिवसीय प्रवासी भारतीय सम्मेलन(Overseas Indian Conference) में आने वाले सात हजार मेहमानों के लिए पूरे इंदौर(Indore) में कमरों का इंतजाम करना मुश्किल हो रहा है। यह सम्मेलन सात आठ नो या आठ नौ दस जनवरी को होगा। सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा दूसरे देशों के कुछ प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति भी आएंगे। केंद्र सरकार के विदेश मंत्रालय के अफसरों ने कल इंदौर में आकर तैयारियों पर बात की।

Read More : Ranveer को भाया Deepika Padukone का ये सिज़लिंग Look, फोटो वायरल

सात हजार मेहमान अभी तक आते रहे हैं। इंदौर में इतने कमरों का इंतजाम नहीं होता है तो कुछ प्रवासियों को नहीं बुलाया जाएगा। जितना इंतजाम होगा उसी हिसाब से प्रवासियों को न्योता भेजा जाएगा। तीन दिवसीय प्रवासी सम्मेलन के लिए पहले दौर में तो ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर देखा गया है, लेकिन उसका हाल छोटा होने के कारण बाहर के खुले मैदान में भी यह आयोजन किया जा सकता है। इसके लिए दूसरे खाली मैदान भी देखे जा रहे हैं।

Read More : Box Office Collection Day 5: Bhool Bhulaiyaa 2 की धाकड़ कमाई, 100 करोड़ क्लब में होगी शामिल

दूसरी बड़ी होटल के पास की जगह देखी जा रही है। प्रवासी भारतीय सम्मेलन के दो दिन पहले इन्वेस्टर सम्मिट भी होगी। इसलिए पांच दिन तक लगातार पूरे शहर में वीआईपी मूवमेंट रहेगा। लगभग आठ हजार कारों का इंतजाम करने के लिए कहा गया है। यह सब तैयारियां इसी हफ्ते पूरी करना है।