ISRO का एक और बड़ा कदम, सिर्फ 24 मिनट में अंतरिक्ष भेजेगा 14 सेटेलाइट

0
ISRO

नई दिल्ली: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (ISRO) एक और बड़ी सफलता की आगे बढ़ रही है. दरअसल, ISRO आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा लॉन्च पैड से 27 नवंबर की सुबह 9.28 बजे भारत के पोलर सेटेलाइट लॉन्च व्हीकल (पीएसएलवी) रॉकेट से 14 उपग्रहों को सिर्फ 27 मिनट में अंतरिक्ष में भेजेगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, भारत का 1,625 किलोग्राम का कार्टोसैट -3 उपग्रह होगा, वहीं अमेरिका के 13 नैनो उपग्रह भी इसमें भेजे जाएंगे. इस काम के लिए इसरो की नई वाणिज्यिक शाखा- न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड को भुगतान अमेरिका करेगा.

इस मिशन की खास बात तो यह है कि कार्टोसैट -3 उपग्रह को पीएसएलवी रॉकेट सबसे पहले सिर्फ 17 मिनट में कक्षा में स्थापित करेगा. इसरो के अनुसार, कार्टोसैट -3 एक तीसरी पीढ़ी का उन्नत उपग्रह है. यह हाई रिजोल्यूशन इमेजिंग की क्षमता रखता है. सिर्फ इतना ही नहीं उपग्रह शहरी नियोजन, ग्रामीण संसाधन और बुनियादी ढांचे के विकास, तटीय भूमि उपयोग और अन्य की मांगों की पूर्ति के लिए तस्वीरें ले सकेगा. उपग्रह शहरी नियोजन, ग्रामीण संसाधन और बुनियादी ढांचे के विकास, तटीय इलाके उपयोग और अन्य की मांगों की पूर्ति के लिए तस्वीरें ले सकेगा.