इस कार्तिक माह घर में लगाएं तुलसी का पौधा

0
25

नई दिल्ली:प्राचीन काल से तुलसी को घर में रखा जाता है। तुलसी के बहुत महत्वपूर्ण माना जाता रहा है। हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे की पूजा की जाती है। तुलसी के पौधे को हिंदू धर्म में पवित्र और धार्मिक पौधा माना जाता है। कई धार्मिक कथाओं में तुलसी का जिक्र किया गया है। तुलसी के पौधे के बारे में ज्योतिषियों का कहना है कि तुलसी का पौधा घर में बहुत शुभ होता है। तुलसी को भगवान कृष्ण के भोग में रखना जरूरी माना जाता है। हर रोज घर में तुलसी के पौधे के नीचे दीपक रखने से सुख-समृद्धि आती है। लेकिन तुलसी का पौधा कार्तिक माह में लगाया जाए तो इसका विशेष महत्व होता है।तुलसी का पौधा लगाने के लिए घर में उत्तर, पूर्व या उत्तर-पूर्व दिशा का चुनाव करना चाहिए।

जबकि दक्षिण दिशा में तुलसी का पौधा कभी नहीं लगाना चाहिए। इसके अलावा घर में कभी भी तुलसी का सूखा पौधा नहीं रखना चाहिए। इसे हटाकर किसी कुएं में या किसी पवित्र स्थान पर चढ़ा देना चाहिए और नया पौधा लगाना चाहिए । अगर सिर्फ कुछ पत्तियां ही खराब हैं तो उन पत्तियों को पौधे से अलग कर दें। तुलसी के पत्तों के अंदर रोग प्रतिरोधक क्षमता होती है। तुलसी का सेवन करने पर यह क्षमता आपमें भी मजबूत हो जाती है। नियमित रूप से तुलसी का सेवन करने से सर्दी, जुकाम और फ्लू जैसी छोटी-छोटी बीमारियां दूर हो जाती हैं।

एक रिसर्च के मुताबिक तुलसी के पत्तों में कैंसर जैसी बड़ी-बड़ी बीमारियां दूर करने के भी गुण हैं। वहीं बताया गया है कि तुलसी के पत्तों और बीज का सेवन करने से नपुंसकता भी खत्म हो जाती है।तुलसी के पत्ते हमेशा सुबह ही तोड़ने चााहिए, दूसरे किसी समय में ये पत्ते तोड़ना उत्तम नहीं होता। तुलसी के पत्ते कभी बासी नहीं होते, इन्हें तोड़ने के कई दिनों बाद भी इन्हें पूजा में शामिल किया जा सकता है। इन्हें बार-बार धोकर भी देवताओं को चढ़ा सकते हैं। रविवार के दिन तुलसी तो जल तो चढ़ा सकते हैं लेकिन उसके नीचे दीपक नहीं जला सकते। भगवान गणेश और मां दुर्गा को कभी भी तुलसी ना चढ़ाएं। इसके अलावा यह भी ध्यान रखें कि जहां भी तुलसी का पौधा लगाया गया है, वहां कभी गंदगी ना करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here