चीनविदेश

ऐप्स बैन करने पर चीनी मिडिया को सताई चिंता, कंपनियों को दी ये चेतावनी

भारत और किन के बीच हुई झड़प के बाद अब भारत सरकार सतर्क हो गई है। जिसके चलते केंद्र सरकार ने चीन के 59 चाइनीज ऐप्स पर बैन लगा दिया है। ये बैन सरकार ने भारतियों का डाटा चोरी ना हो और सुरक्षा के कारणों को देखते हुए किया है। वहीं अब चीन को हो रहे आर्थिक नुकसान को लेकर चीनी मीडिया काफी परेशान नजर आ रही है। जिसके बाद चीनी मीडिया से तीखी प्रतिक्रियां आने लगी है। चीन सरकार के मुखपत्र हु शिजिन ने हाल ही में एक ट्वीट शेयर कर तंज कसा है। पोस्ट में उन्होंने लिखा है कि अगर चीनी लोग भारतीय वस्तुओं का बहिष्कार करना भी चाहें तो उन्हें बहुत भारतीय वस्तुएं मिलेंगी ही नहीं।

साथ ही उन्होंने लिखा ‘भारतीय दोस्तों’ को आगाह करने की कोशिश की कि राष्ट्रवाद से ज्यादा कई दूसरी चीजों पर ध्यान देने की जरूरत है। वहीं ग्लोबल टाइम्स में भी एक आर्टिकल छपा है जिसके मुताबिक उसमें भारत में राष्ट्रवाद के उभार से व्यापार को नुकसान पहुंचने की आशंका जताई गई है। उस आर्टिकल में लिखा है कि चीन के खिलाफ भारत में बढ़ते राष्ट्रवाद की आंच अब आर्थिक क्षेत्र तक पहुंच गई है. कोरोना वायरस महामारी के संकट और भारत-चीन के बीच चल रहे तनाव की वजह से दोनों देशों के बीच व्यापार में 30 फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखने को मिल सकती है।

आपको बता दे, अगर इसका असर व्यापार पर पड़ता है तो चीन को ही नुकसान भुगतना पड़ सकता है। क्योंकी चीन से ही भारत में आयात ज्यादा और निर्यात बेहद कम होती है। वहीं ग्लोबल टाइम्स ने चीनी कंपनियों को और निवेशकों को आगाह किया है कि दोनों देशो के सम्बन्ध में में बढ़ती अनिश्चितताओं के बीच चीन को भारत में अपने निवेश का अच्छी तरह से मूल्यांकन करना चाहिए और चीनी निवेशकों को भी भारत में राष्ट्रवाद के उभार को लेकर सावधान हो जाना चाहिए।