Breaking News

राजस्थान विधानसभा चुनाव में महिलाओं का दबदबा

Posted on: 10 Nov 2018 16:12 by shilpa
राजस्थान विधानसभा चुनाव में महिलाओं का दबदबा

देश के सभी बड़े राज्यों की राजनीति में महिलाऐं अहम् भूमिका निभा रही है। विधानसभा चुनाव अब जल्द ही है और सभी राजनैतिक पार्टिया जोरशोर से तैयारिया कर रही है। राजस्थान की राजनीति में महिलाओं का वर्चस्व बना हुआ है।

राजस्थान की राजनीति की बात करे तो 200 विधायकों वाली विधानसभा में 28 महिला विधायक हैं। वसुंधराराजे सिंधिया सबसे प्रभावी महिला मुख्यमंत्री हैं। राज्य की विधानसभा में महिलाओं का दबदबा बना हुआ है क्योंकि उनके अलावा भी कई और महिला विधायक हैं। किरण माहेश्वरी कैबिनेट मंत्री हैं, वहीं कृष्णेंद्र कौर व अनिता भदेले राज्यमंत्री हैं।

महिला राजनेताओं ने राजस्थान में अपना वर्चस्व बनाकर रखा है। आइए देखते है

झालावाड़ से पांच बार सांसद और तीन बार विधायक का चुनाव जीत चुकी वसुंधराराजे अपने प्रभावी व्यक्तित्व के लिए प्रसिद्द है। वह दूसरी बार सीएम पद पर हैं।

राजस्थान में कांग्रेस की एकमात्र महिला विधायक है शकुंतला रावत। राज्यस्तरीय मुद्दों पर कांग्रेस के मुख्य वक्ता के रूप में नज़र आती है।

एक उभरती हुई राजनेता अनिता कटारा सागवाड़ा से विधायक हैं। वे सांगवाड़ा को ड्रीम सिटी बनवाना चाहती हैं।

वर्ष 2008 में राजसमंद से विधायक और 2013 में उसे भाजपा का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनी मंत्री किरण माहेश्वरी एक कुशल वक्ता हैं जो सब पर चतुराई से जवाब देती हैं।

Image result for विधायक अलकासिंह गुर्जर

via

तेजतर्रार महिला विधायक अलकासिंह गुर्जर किसी भी राजनैतिक मुद्दे पर बोलने का मौका नहीं गंवाती।

विधायक सोनादेवी बावरी जमींदारा पार्टी छोड़ हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुई है जिससे हनुमानगढ़ गंगाधर जिले में कांग्रेस को मजबूती मिलेगी।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com