नागरिकता बिल में क्यों शामिल नहीं हैं मुसलमान? अमित शाह ने बताई वजह

0
56
amit shah

नई दिल्ली। बुधवार को राज्यसभा में चली लंबी बहस के बाद नागरिकता संशोधन विधेयक पास हो गया है। बिल पर बहस के दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने विपक्ष के तमाम सवालों के जवाब दिए। इस दौरान उन्होने बिल में मुसलमानों को शामिल न किए जाने की भी वजह बताई है।

गृह मंत्री ने राज्यसभा में कहा कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में मुस्लिम हुसंख्यक हैं। ऐसे में इन देशों में मुस्लिमों का धार्मिक आधार पर उत्पीड़न नहीं हो रहा है। शाह ने कहा, पाकिस्तान और अफगानिस्तान में रह रहे अल्पसंख्यकों के अधिकारों को छिन लिया गया है।

अमित शाह ने कहा जब बांग्लादेश गठित किया गया पहले अल्पसंख्यकों के अधिकारों का ध्यान रखा गया, लेकिन इन देशों में अल्पसंख्यक की 20 फीसदी आबादी को समाप्त कर दिया गया। या तो उनका धर्मांतरण कर दिया गया या उन्हें मार दिया गया। उन्होने कहा, धार्मिक प्रताड़ना के चलते कई अल्पसंख्यक भारत आए हैं। यहां भी उनका ख्याल नहीं रखा गया। वे भारत में मूल अधिकारों के लिए लड़ रहे हैं। यह विधेयक इन लोगों को राहत देगा।

बता दे कि बिल के पक्ष में 125 वोड़ पड़े। जबकि इसके विपक्ष में 105 सदस्यों ने वोटिंग की। वहीं वोटिंग के दौरान शिवसेना ने सदन से वाकआउट किया। इससे पहले बिल को सिलेक्ट कमेटी के पास भेजने के लिए वोटिंग की गई थी, जिसके विपक्ष में 124 वोट पड़े जबकि बिल को सिलेक्ट कमेटी के पास भेजने के पक्ष में 99 सदस्यों ने वोटिंग की। वहीं सदन की कार्यवाही कल 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here