Breaking News

पुरानी कार या गाड़ी बेचने पर GST क्यों और कितना लगेगा, अतिमहत्पूर्ण जाने

Posted on: 31 Jan 2019 10:28 by Ravindra Singh Rana
पुरानी कार या गाड़ी बेचने पर GST क्यों और कितना लगेगा, अतिमहत्पूर्ण जाने

लॉजिक कंसेप्ट यह है की सरकार आपसे एक बार ही टैक्स लेना चाहती है जब आपने गाड़ी खरीदी थी. लेकिन जब आप इसे यूज़(पुरानी) करके बेचते है तब टैक्स कितना और कैसे लगेगा यह  इस पर डिपेंड करता है की खरीदी के वक्त अपने ITC ली थी या नहीं ली थी क्या इस पर ITC ब्लाक है या नहीं. बुक्स में डेप्रिसिएशन लिया या नहीं. जाने 25.1.2018 के बाद किन परिस्थिति मे कैसे टैक्स देना है.

मार्जिन मतलब प्रॉफिट पर टैक्स देना है

सरकार नयी गाड़ी पर 28% टैक्स लगाती है लेकिन पुरानी गाड़ी पर होनेवाले प्रॉफिट पर 18% या 12% ही लगाएगी. सरकार ने कहा है की आप १८% टैक्स पूर्ण मूल्य पर ना वसूल करे बल्कि सिर्फ उस वैल्यू पर ले जो की आपको गाड़ी बेचने पर मुनाफा हो रहा है अब मुनाफा तय करने में आप अपनी बुक्स में जो डेप्रिसिएशन का फायदा लेने के बाद जो मूल्य बुक में दर्शा रहा है उसको विक्रय मूल्य में से घटा दे जो की आपका मुनाफा है उस अंतर के मुनाफे पर सरकार को १८% की दर से टैक्स वसूल करके देना होगा. यह नियम वही लागु होगा जहा अपने नए कानून या पुराने कानून में टैक्स की इनपुट क्रेडिट नहीं ली थी यदि आपने खरीदी के वक्त इनपुट टैक्स क्रेडिट ले ली थी मतलब सरकार से चुकाया कर वापिस ले लिया था तो आपको पूर्ण विक्रय मूल्य पर टैक्स 28% से ही देना है.

यदि आपकी गाड़ी पेट्रोल या गैस की है और इंजिन 1200 सीसी से कम की है तो आपको टैक्स की दर 18% की जगह 12% ही देना है. यदि डीजल से चलनेवाली गाड़ी है और इंजिन1500 सीसी से कम है तो 12% टैक्स लगाना है, पेट्रोल ,गैस की गाड़ी जिसकी इंजिन केपेसिटी 1200 सीसी से ज्यादा और लम्बाई 4000 MM से ज्यादा हो, मतलब दोनों शर्ते लागु हो तो 18% की दर से टैक्स लगेगा अन्यथा 12% डीजल के केस में 1500 सीसी से ज्यादा और लम्बाई 4000 MM की हो, दोनों शर्ते लागु होना चाहिए तो 18% की दर से टैक्स लगेगा अन्यथा 12%.

SUV गाड़ी व् अन्य यूटिलिटी गाडियां (जो की पेट्रोल या डीजल की है ) पर 18% की दर से टैक्स लगेगा.पुरानी गाड़ी बेचने पर सेस टैक्स नहीं लगेगा. उपरोक्त को छोड़कर सभी अन्य मोटर व्हीकल जो की छोटी कार है जैसे आल्टो, स्विफ्ट,तीन पहिया वाहन,मोटरसाइकिल ,स्कूटर  वगेराह पर 12% की दर से प्रॉफिट पर टैक्स देना है

यदि आपने डेप्रिसिएशन भी आयकर में नहीं लिया था तो खरीदी मूल्य को विक्रय मूल्य में से घटाएंगे. यदि घाटा है तो कोई टैक्स आपको नहीं लगाना है और मुनाफा है तो मुनाफे पर टैक्स लगाना है.

CA Bharat Neema

9827539432 (कोई समस्या हो तो whastapp, ईमेल करके या फ़ोन करके पूछ सकते है )

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com