पश्चिम बंगाल शिक्षा घोटाला : अर्पिता मुखर्जी की काली डायरी खोलेगी राज, ममता के मंत्री पार्थ चटर्जी पर कसेगा शिकंजा

पश्चिम बंगाल में शिक्षा विभाग में आर्थिक घोटाले के आरोप में ममता बैनर्जी के मंत्री पार्थ चटर्जी और उनकी कथित सहयोगी बंगाली फिल्मों की अभिनेत्री अर्पिता मुखर्जी को गिरफ्तार किया गया था। अर्पिता मुखर्जी के घर से मिले थे 21 करोड़ और एक काली डायरी।

पश्चिम बंगाल (West Bengal) में शिक्षा विभाग में आर्थिक घोटाले के आरोप लगे हैं। जिसमें शिक्षकों की भर्ती में लेन-देन और सांठगांठ के आरोप प्रमुखता से लगे हैं, जिसके माध्यम से अयोग्यों की नौकरी और योग्यों को निराशा हाथ लगी थी । यह घोटाला ममता बैनर्जी की सरकार में पार्थ चटर्जी (Partha Chatterjee) के शिक्षा मंत्री रहते हुए घटित हुआ था। इस आरोप में ईडी ने कार्यवाही करते हुए पार्थ चटर्जी और उसकी सहयोगी माने जाने वाली बंगाली फिल्मों की अभिनेत्री अर्पिता मुखर्जी को गिरफ्तार किया गया था।

Also Read-लाइव : आज दोबारा होगी सोनिया गाँधी से पूछताछ, राहुल और प्रियंका के साथ पहुँची ईडी दफ्तर

अर्पिता मुखर्जी के घर से मिले थे 21 करोड़ और एक काली डायरी

पश्चिम बंगाल में शिक्षा विभाग में आर्थिक घोटाले के आरोप में ममता बैनर्जी के मंत्री पार्थ चटर्जी और उनकी कथित सहयोगी बंगाली फिल्मों की अभिनेत्री अर्पिता मुखर्जी को गिरफ्तार किया गया था। जानकारी के अनुसार अर्पिता मुखर्जी के घर पर उस दौरान छापा भी मारा गया था, जिसमे 21 करोड़ रुपए नकद और कुछ दस्तावेज मिले थे। इसके साथ ही अर्पिता मुखर्जी के घर से एक काली डायरी भी बरामद हुई थी। सूत्रों के अनुसार इस काली डायरी में शिक्षा विभाग में हुए शिक्षक भर्ती घोटाले से संबंधित कई महत्त्वपूर्ण जानकारियां सामने आने की संभावनाएं हैं।

Also Read-टेलीकॉम सेक्टर : आज से 5G की राह होगी आसान, इंटरनेट की गति को लगने वाले हैं पंख

पार्थ चटर्जी के घर पर छापे के दौरान मिले थे अर्पिता की मिलीभगत के सबूत

ममता बैनर्जी के मंत्री पार्थ चटर्जी के घर पश्चिम बंगाल में शिक्षा विभाग में आर्थिक घोटाले के आरोप में ईडी के छापे के दौरान कुछ पर्चियां हाथ लगी थीं, जिनपर अर्पिता मुखर्जी का उल्लेख किया गया था साथ ही उनके नाम के साथ वन सीआर और 4 सीआर जैसे शब्द भी लिखे थे। जिसके बाद ईडी के अधिकारीयों द्वारा अर्पिता मुखर्जी के घर पर छापा मारा था , जिसमे 21 करोड़ नकद और महत्त्वपूर्ण दस्तावेज मिले थे।