औरैया। उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में एक स्कूल शिक्षक ने टेस्ट में महज एक शब्द गलत लिखने पर छात्र को इतना पीटा जिस कारण उसकी मौत हो गयी। पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है, लेकिन अब तक आरोपी शिक्षक फरार है। दलित जाति के छात्र की मौत से गुस्साये ग्रामीणों से सड़क जाम कर पुलिस के वाहन को आग लगा दी।

पुलिस अधीक्षक (SP) चारु निगम ने बताया कि मृतक छात्र वैशोली गांव निवासी निखित पुत्र राजू दोहरे है। वह आदर्श इंटर कालेज की कक्षा 10 में पढ़ता था। उन्होंने बताया कि 7 सितंबर को आरोपी शिक्षक अश्विनी सिंह ने टेस्ट लिया था। इसमें निखित ने OMR सीट में एक की जगह दो गोले भर दिए और सामजिक विज्ञान विषय को समाजक लिख दिया। इससे गुस्साए शिक्षक ने उसकी लाठी-डंडों और लात-घूंसे से बेहरमी से पिटाई कर दी।

छात्र के पिता ने राजू ने बताया कि मारपीट से उसका बेटा बेहोश हो गया था। सूचना पर जब वह स्कूल पहुंचे तो शिक्षक ने पहले उन्हें धमकाया, लेकिन विरोध जताने पर प्रिंसिपल ने दखल देकर शिक्षक को उपचार खर्च देने के लिए तैयार किया। इस पर शिक्षक ने उन्हें उपचार के नाम पर 40,000 रुपये दिए थे। उन्होंने बताया कि निखित का औरैया और इटावा के प्राइवेट अस्पताल में उपचार कराया था, लेकिन उसकी तबियत में सुधार नहीं हुआ। जिसके बाद रविवार सुबह हालत बिगड़ने पर निखित को सैफई अस्पताल लेकर गए थे, लेकिन उसने अस्पताल के बाहर एंबुलेंस में ही दम तोड़ दिया।

Also Read: Rajasthan Political Crisis Live Update: अशोक गहलोत से नाराज कांग्रेस आलाकमान, कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस से हो सकते बाहर

फ़िलहाल आरोपी शिक्षक की तलाश कर रही है. घटना के बाद गुस्साएं ग्रामीणों ने जमकर पत्थरबाज़ी की व पुलिस का वहां भी आग हवाले कर दिया।