Home देश राजस्थान उदयपुर टेलर हत्याकांड: राजस्थान में अलर्ट जारी, धारा 144 लागू

उदयपुर टेलर हत्याकांड: राजस्थान में अलर्ट जारी, धारा 144 लागू

उदयपुर में दिनदहाड़े टेलर की हत्या , राजस्थान में अलर्ट जारी ,धारा 144 लागू ,हत्याकांड से जुड़े दो आरोपी राजसमंद जिले से गिरफ्तार, राजस्थान सरकार द्वारा मृतक के परिजनों को मुआवजे की घोषणा

राजस्थान के उदयपुर (Udaipur) में कल 28 जून मंगलवार को दोपहर 3:3o बजे एक टेलर की धारदार हथियार से गला काटकर नृशंस हत्या कर दी गई। हालांकि देर शाम तक हत्याकांड से जुड़े दो आरोपियों को राजस्थान पुलिस के द्वारा राजसमंद जिले से गिरफ्तार कर लिया गया है। हत्याकांड के बाद से ही पूरे राजस्थान में अलर्ट जारी है , पूरे राज्य में संभावित उपद्रव की आशंका में धारा 144 लगा दी गई है साथ ही उदयपुर ,अजमेर ,दौसा आदि जिलों में इंटरनेट सुविधा को अस्थाई रूप से बंद कर दिया गया है।

मृतक द्वारा मांगी गई थी पुलिस से मदद

मामले में जानकारी मिली है कि मृतक टेलर कन्हैयालाल द्वारा 17 दिन पहले पुलिस विभाग को पत्र लिखकर अवगत कराया गया था कि उन्हें जान से मार दिए जाने की धमकियां दी जा रही हैं। इस संबंध में मृतक ने पुलिस द्वारा सुरक्षा की मांग की गई थी। पुलिस को दिए शिकायत पत्र में मृतक टेलर कन्हैयालाल ने लिखा था कि मेरा बच्चा गेम खेल रहा था, उस वक्त गलती से वॉट्सऐप (Whatsapp) पर उसके द्वारा एक स्टेटस लगा दिया गया। उन्होंने कहा कि मुझे इस बात की जानकारी नहीं थी और ना ही मुझे फोन और व्हाट्सएप चलाना आता है।

Also Read – उदयपुर: 10 दिन पहले ही हत्यारे ने दे दी थी धमकी, बोला- सिर कलम करने के बाद अपलोड करूंगा Video

मृतक ने 11 तारीख को थाने से फोन आने की जानकारी दी जिसमें की कहा गया के मेरे पड़ोस में ही रहने वाले नाजिम नाम के शख्स ने उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी । शिकायत में पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ टिप्पणी को प्रचारित करने का आरोप लगाया गया था,जिसके बाद पुलिस द्वारा टेलर को गिरफ्तार कर लिया गया था। उसी दिन मामले में जमानत भी मृतक टेलर को मिल गई थी। जानकारी के अनुसार पुलिस द्वारा दोनों पक्षों का समझौता करा दिया गया था। टेलर ने पत्र में लिखा कि उसके बाद से उन्हें लगातार जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं।

राजस्थान सरकार द्वारा मृतक के परिजनों को मुआवजे की घोषणा

उदयपुर के दिनदहाड़े हत्याकांड में मृतक टेलर कन्हैयालाल के परिजनों को 31 लाख रु. का मुआवजा देने की घोषणा राजस्थान सरकार द्वारा की गई है । इसके साथ ही मृतक के परिवार के किन्ही 2 सदस्यों को संविदा नौकरी देने का भी एलान किया गया है।

Exit mobile version