सावन माह की मासिक शिवरात्रि कल, इन पूजन सामग्री से करें भोलेनाथ को प्रसन्न

कल मासिक शिवरात्रि है। सावन के माह में पड़ने वाली मासिक शिवरात्रि का महत्व बहुत अधिक होता है। इस दिन भक्त शिव जी की पूजा अर्चना करते हैं। बता दे, आज अगहन की मासिक शिवरात्रि है। ये दिन शिव भक्तों के लिए बेहद खास होता है। इस दिन भक्त शिवलिंग पर दूध, जल और बेलपत्र चढ़ा कर शिव जी को प्रसन्न करते हैं। जैसा कि आप सभी जानते हैं हर महीने की कृष्ण पक्ष चतुर्थी पर मासिक शिवरात्रि होती है। इसका विशेष महत्व हिन्दू मानयताओं में माना गया है। आज हम आपको सावन माह की मासिक शिवरात्रि की पूजा-विधि, शुभ मुहूर्त और शिव पूजा सामग्री की लिस्ट के बारे में बताने जा रहे है तो चलिए जानते है –

तिथि और शुभ मुहूर्त –

सावन माह चतुर्दशी तिथि प्रारंभ- 06 अगस्त (शुक्रवार) शाम 06 बजकर 28 मिनट से
सावन माह चतुर्दशी तिथि समाप्त- 07 अगस्त (शनिवार) शाम 07 बजकर 11 मिनट तक
ब्रह्म मुहूर्त- सुबह 04:20 बजे से सुबह 05:03 बजे तक
अभिजीत मुहूर्त- दोपहर 12 बजे से दोपहर 12:54 बजे तक
विजय मुहूर्त- दोपहर 02:41 बजे से दोपहर 03:34 बजे तक
गोधूलि मुहूर्त- शाम 06:55 बजे से शाम 07:19 बजे तक
अमृत काल- 6 अगस्त सुबह 05:42 बजे से 7 अगस्त सुबह 07:25 बजे तक
निशिता मुहूर्त- देर रात 12:06 बजे से दोपहर 12:48 बजे तक
सर्वार्थ सिद्धि योग- 6 अगस्त सुबह 06:38 बजे से 7 अगस्त सुबह 05:46 बजे तक

व्रत पारण का समय –

07 अगस्त (शनिवार) सुबह 05 बजकर 46 मिनट से दोपहर 03 बजकर 45 मिनट तक है।

पूजा सामग्री की लिस्ट –

पुष्प, पंच फल पंच मेवा, रत्न, सोना, चांदी, दक्षिणा, पूजा के बर्तन, कुशासन, दही, शुद्ध देशी घी, शहद, गंगा जल, पवित्र जल, पंच रस, इत्र, गंध रोली, मौली जनेऊ, पंच मिष्ठान्न, बिल्वपत्र, धतूरा, भांग, बेर, आम्र मंजरी, जौ की बालें,तुलसी दल, मंदार पुष्प, गाय का कच्चा दूध, ईख का रस, कपूर, धूप, दीप, रूई, मलयागिरी, चंदन, शिव व मां पार्वती की श्रृंगार की सामग्री।