Homeइंदौर न्यूज़स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का दूसरा दिन आज, विशेषज्ञ डॉक्टर करेंगे सफाई मित्रों...

स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का दूसरा दिन आज, विशेषज्ञ डॉक्टर करेंगे सफाई मित्रों का इलाज

इंदौर को देश में सबसे स्वच्छ शहर बनाने में सहयोगी निगम के सफाई मित्रो व कर्मचारियो के सम्मान के साथ ही सफाई मित्रो व कर्मचारियो व उनके परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य परीक्षण सेन्ट्रल लेब के माध्यम से दो दिवसीय स्वास्थ्य परीक्षण रखा गया।

इंदौर : इंदौर की स्वच्छता एवं स्वच्छ सर्वेक्षण में लगातार पांच बार इंदौर को देश में सबसे स्वच्छ शहर बनाने में सहयोगी निगम के सफाई मित्रो व कर्मचारियो के सम्मान के साथ ही सफाई मित्रो व कर्मचारियो व उनके परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य परीक्षण सेन्ट्रल लेब के माध्यम से दो दिवसीय स्वास्थ्य परीक्षण रखा गया। उक्त स्वास्थ्य प्रशिक्षण शिविर राजमोहल्ला कम्युनिटी हॉल का आज दूसरे दिन आयुक्त प्रतिभा पाल द्वारा निरीक्षण किया गया। अपर आयुक्त देवेन्द्र सिंह, सहायक आयुक्त सुषमा धाकड, कर्मचारी युनियन के प्रताप करोसिया, लीलाधर करोसिया, राजेश करोसिया, मदन बोस पथरोड, क्षेत्रीय झोनल अधिकारी धीरेन्द्र बायस, निगम के अधिकारियो व कर्मचारीगण उपस्थित थे।

आयुक्त प्रतिभा पाल ने कहा कि नगर निगम इंदौर शहर के सफाई मित्रो व कर्मचारियो के स्वास्थ्य के प्रति सजग है, इसी क्रम में विगत दिवस में निगम द्वारा महिला सफाई मित्रों हेतु विशेष वर्कशॉप आयोजित की गई थी, जिसमें ज्ञात हुआ कि महिला सफाई मित्रों में खून की कमी होने के कारण विभिन्न बीमारियों से संक्रमित होने का खतरा बना रहता है। उन्होंने कहा कि सफाई मित्र लगातार अपने फील्ड में काम करते हैं और उन्हें जानकारी भी नहीं होती है कि उन्हें खून की कमी है।

इसी उद्देश्य निगम द्वारा अपने कर्मचारियो के साथ ही उनके परिवार हेतु 2 दिवसीय स्वास्थ्य परीक्षण शिविर राजमोहल्ला कमेटी हॉल में आयोजित किया गया है, निगम द्वारा सेन्ट्रल लेब के सहयोग से स्वास्थ्य परीक्षण शिविर में ब्लड टेस्ट, ब्लड प्रेशर, क्रिएटीन, एसजीपीटी, शुगर, केलोस्ट्रॉल, प्रोटीन, जीएफआर, एलबुमिन, हाईट व वेट की डॉ. विनिता भंडारी, डॉ. रवि पटेल, डॉ. भारत, डॉ. यशवर्धन, डॉ. अंतिम वर्मा के माध्यम से जांच की जाकर सफाई मित्रो व उनके परिवार को आवश्यक परामर्श दिया गया है।

उन्होंने कहा कि आगामी 7 से आठ दिवस में शहर के विभिन्न स्थानों पर स्वास्थ शिविर के माध्यम से सफाई मित्रों का डेटा संग्रह किया जाएगा और इसके आधार पर आगामी उपचार की योजना तैयार की जावेगी। उन्होंने कहा कि सफाई मित्रों के साथ ही उनके परिवार की 12 वर्ष से अधिक की बच्चियों की भी ब्लड की जांच की जाएगी, हिमोग्लोबिन एवं अन्य विटामिंस की कमी हेतु महिला स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से आयरन फ्लोरिक एसिड एवं अन्य विटामिन की गोलियां उपलब्ध कराई जाएगी तथा आवश्यक उपचार भी किया जाएगा।

 

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular