आज है पौष शुक्ल अष्टमी तिथि, इन बातों का रखें ध्यान

आज सोमवार, पौष शुक्ल अष्टमी तिथि है। आज रेवती नक्षत्र, "आनन्द" नाम संवत् 2078 है

आज सोमवार, पौष शुक्ल अष्टमी तिथि है।
आज रेवती नक्षत्र, “आनन्द” नाम संवत् 2078 है
( उक्त जानकारी उज्जैन के पञ्चाङ्गों के अनुसार है)

-आज दोपहर 01:17 बजे पञ्चक पूर्ण होंगे।
-किसी भी भवन का निर्माण शत-प्रतिशत वास्तु के नियमों के अनुसार संभव नहीं है, फिर भी यदि हम 70% वास्तु नियमों का पालन कर सकें तो उत्तम लाभ प्राप्त होता है।
-शत – प्रतिशत वास्तु नियम कम से कम 100 × 100 वर्ग फुट के भूखण्ड पर 66 × 66 वर्गफुट के भवन निर्माण में संभव है।
-भवन के चारों ओर खुला स्थान होना चाहिए।
-बालकनी का मुख उत्तर या पूर्व दिशा में होना चाहिए।
-दक्षिण – पश्चिम दिशा यानि नैऋत्य कोण में खिड़कियां नहीं होना चाहिए।
-नैऋत्य कोण की दिशा वाली दीवार अधिक मोटी होना चाहिए।
-पूर्व एवं उत्तर दिशा की ओर अधिक खिड़कियां होना चाहिए।
-यदि दक्षिण की ओर सड़क हो तो दरवाजा दक्षिण या अग्नि कोण में होना चाहिए।
-यदि पश्चिम की ओर सड़क हो तो दरवाजा पश्चिम या वायव्य कोण में होना चाहिए।