Homeधर्मआज है आश्विन शुक्ल चतुर्दशी तिथि, रखें इन बातों का ध्यान

आज है आश्विन शुक्ल चतुर्दशी तिथि, रखें इन बातों का ध्यान

आज मंगलवार, आश्विन शुक्ल चतुर्दशी तिथि है। आज उत्तरा भाद्रपद नक्षत्र, “आनन्द” नाम संवत् 2078 है
( उक्त जानकारी उज्जैन के पञ्चाङ्गों के अनुसार है)

-आज सर्वार्थ सिद्धि योग प्रातः 6:30 से 12: 13 बजे तक है।
-भीष्म पितामह कुरुक्षेत्र के निकट ओघवती नदी के तट पर शरशैया पर लेटे थे।
-शरशैया पर लेटे हुए भीष्म पितामह ने युधिष्ठिर को जो ज्ञान दिया था, वह वैदिक सिद्धान्त की तरह इस भूमण्डल पर आज भी मान्य है।
-काशी में सबसे पहले दण्डपाणि गणेश जी का पूजन करने के बाद ही विश्वेश्वर भगवान का पूजन करने का महत्त्व है।
-जब सारे तर्क समाप्त हो जाते हैं, तभी उत्तम ज्ञान की प्राप्ति होती है।
-महाभारत के अनुशासन पर्व में ब्राह्मणों की महिमा का विस्तार से वर्णन है।
-ब्राह्मण परस्पर तप और विद्या की अधिकता देखकर एक – दूसरे का सम्मान करते हैं।
-जो ब्राह्मण विद्वान है, वह महान देवता के समान है।
-विद्वान ब्राह्मण को आद्य, मध्य और अवसान का ज्ञान होता है।
-घर में श्वान ( कुत्ता) रखने वालों के लिए स्वर्ग में स्थान नहीं होता है। (महाभारत महा प्रास्थानिक पर्व)
-राजा जनमेजय ने सर्पेष्टि यज्ञ तक्षशिला में किया था। (महाभारत स्वर्गारोहण पर्व)
-रविवार के व्रत में रात्रि भोजन वर्जित माना गया है।

विजय अड़ीचवाल

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular