Gaja Lakshmi Vrat 2021:

हिंदू धर्म में सुख-समृद्धि धन-वैभव की प्राप्ति के लिए मां लक्ष्मी की पूजा का विधान है। शुक्रवार का दिन मां लक्ष्मी को बेहद प्रिय है। मान्यता है कि इस दिन विधि-विधान से मां लक्ष्मी की पूजा-अर्चना करने और मंत्र जाप आदि से प्रसन्न किया जा सकता है। इतना ही नहीं, ये भी मान्यता है कि इस दिन कुछ उपाय करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती है। आइए जानते हैं ऐसे ही मां लक्ष्मी के कुछ मंत्रों के बारे में, जिनका जाप करने से व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

मां लक्ष्मी का बीज मंत्र:-

ऊँ श्रींह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ऊँ महालक्ष्मी नम:।

मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए उनके बीज मंत्र का जाप कमल गट्टे की माला से करना लाभदायी होता है।

धन समस्या दूर करने का मंत्र:-

ऊँ ह्रीं श्री क्रीं क्लीं श्री लक्ष्मी मम गृहे धन पूरये, धन पूरये, चिंताएं दूरये-दूरये स्वाहा:।

मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए और आर्थिक समस्याओं या कर्ज से छुटकारा पाने के लिए इस मंत्र का जाप किया जाता है।

श्री लक्ष्मी महामंत्र:-

ऊँ श्रीं ल्कीं महालक्ष्मी महालक्ष्मी एह्येहि सर्व सौभाग्यं देहि मे स्वाहा।।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस मंत्र के जाप से व्यक्ति को धन, ऐश्वर्य, सौभाग्य और यश की प्राप्ति होती है। इसे महालक्ष्मी मंत्र के नाम से जाना जाता है। इसका जाप शुक्रवार को 108 बार करें। जाप करते समय तिल के तेल की दिया जलाना लाभदायक होता है।

Also Read – Indore : इनामी बदमाश को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार, धोखाधड़ी के केस में लंबे समय से था फरार

मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के ज्योतिष उपाय

  • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार प्रतिदिन गाय को रोटी खिलाना शुभ माना जाता है। इससे मनुष्य को मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है।
  • तुलसी के पौधे के पास दीपक जलाने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और इससे मनुष्य के जीवन में धन का आगमन होता है।
  • मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए रोज लक्ष्मी सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए। ऐसा करने से आपको मां लक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त हो सकता है।
  • मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए पूजा के दौरान शंख और घंटी बजाएं। इससे आपके घर पर मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी।
  • रात को घर के पूजा स्थान पर शुद्ध घी का दीपक जलाएं। धन की कमी नहीं रहेगी और जीवन के हर कार्य में सफलता मिलेगी।