Tithi : आज है मार्गशीर्ष शुक्ल अष्टमी तिथि, इन बातों का रखें ध्यान

आज शनिवार, मार्गशीर्ष शुक्ल अष्टमी तिथि है। आज पूर्वा भाद्रपद नक्षत्र, "आनन्द" नाम संवत् 2078 है। 

Kartik Maas 2021

आज शनिवार, मार्गशीर्ष शुक्ल अष्टमी तिथि है। आज पूर्वा भाद्रपद नक्षत्र, “आनन्द” नाम संवत् 2078 है।
( उक्त जानकारी उज्जैन के पञ्चाङ्गों के अनुसार है)

Also Read – Rashifal: जानिए कैसा रहेगा आज का आपका दिन, पढ़िए राशिफल

-अष्टमी, चतुर्दशी, अमावस्या तिथि को पशुओं का क्रय – विक्रय नहीं करना चाहिए।
-मङ्गलवार, चतुर्दशी तिथि तथा प्रातः, सन्ध्या, रात्रि, दिन में भोजन के बाद, यात्रा वाले दिन क्षौर कर्म (कटिंग) नहीं कराना चाहिए।
-यज्ञ वाले दिन, माता – पिता की मृत्यु, जेल से छूटने, विवाह अवसर पर क्षौर कराने में उक्त दिन, तिथि नहीं देखे जाते हैं।
-जब जिस नक्षत्र में शनि विद्यमान हो, उससे सम्बन्धित वृक्ष का यत्न पूर्वक पूजन करने से शनि का अरिष्ट निवारण होता है।
-सूर्य नक्षत्र आर्द्रा के प्रथम चरण में अर्थात दिनांक 22 जून से 24 जून तक बीज नहीं बोना चाहिए।
-श्रीमद् भगवत गीता में 8 प्रकृतियों के नाम बताए हैं – भूमि, जल, अग्नि, वायु, आकाश, मन, बुद्धि तथा अहंकार।
-श्वास रोककर मन्त्र का उच्चारण नहीं करना चाहिए।
-शान्त, ज्ञान और अत्यन्त रौद्र – यह मन्त्रों के तीन प्रकार हैं।

विजय अड़ीचवाल