खजराना गणेश मंदिर में तिल चतुर्थी उत्सव आज से, सवा लाख लड्डू का लगेगा भोग

0

इंदौर। खजराना गणेश मंदिर में 13 जनवरी यानि सोमवार से तिल चतुर्थी उत्सव प्रारंभ हो जाएगा। उत्सव का शुभारंभ सुबह 10.30 कलेक्टर व खजराना गणेश मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष लोकेश कुमार जाटव द्वारा ध्वजा पूजन के साथ किया जाएगा। जिसमें संस्कृत विद्यालय के बटूकों द्वारा अर्थवशीष पाठ किया जाएगा। साथ ही सवा लाख तिल गुड़ के लड्डू का भोग प्रथम दिवस लगाया जाएगा। उत्सव के दूसरे और तीसरे दिन को अलग-अलग अनाजों से निर्मित लड्डूओं का भोग लगेगा। भगवान गणेश का स्वर्ण आभूषणों से श्रृंगार किया जाएगा, जिसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन द्वारा 1-4 की गार्ड लगाकर कराई जाएगी। मंदिर परिसर में आकर्षक विद्युत एवं फूलो से साज सज्जा रहेगी। तीन दिवसीय भजन संध्या का आयोजन भी होगा। इसमें अलग-अलग गायकों द्वारा भजनों की प्रस्तुति दी जाएगी। मंदिर परिसर में उत्सव अवधि के दौरान मेला आयोजन भी होगा।

इसमें बच्चांे के मनोरंजन के लिए छोटे झूले, चाट-चैपाटी, आदि की व्यवस्था होगी। गणपति मंदिर खजराना में आने वाले दर्शनार्थी रिंगरोड से माता कालका मंदिर के सामने वाले द्वार से प्रवेश करेंगे ओर झिगझेग से होते हुए संचयेनी द्वार में से मुख्य प्रागण में प्रवेश करेंगे, जिसमें स्टेपिंग के माध्यम से प्रथम लाइन प्रसादी चढ़ाने के लिए नियत रहेगी। शेष चार लाइनांे से दर्शनार्थियों द्वारा दर्शन लाभ लिया जा सकेगा। दर्शनार्थियों के लिए निकासी मार्ग मंदिर प्रांगण स्थित सांई बाबा मंदिर की ओर से किया गया है। श्रद्धालु मंदिर परिसर से बाहर गोयल विहार से निकासी मार्ग होते हुए वापस रिंगरोड पर जा सकेंगे। उक्त अवधि में मंदिर गर्भ गृह में किसी को जाने की अनुमति नहीं रहेगी एवं यातायात को देखते हुए दोनो मार्ग एकांगी रहेंगे।