माउन्ट लिट्रा जी स्कूल का नया सत्र हुआ शुरू, दोस्तों से मिल खिले विधार्थियों के चेहरे

नर्सरी से 5वीं तक के हमारे शिक्षकों ने पॉप्सिकल्स, मिनी स्कूल बैग, ग्रीटिंग कार्ड , पक्षी का रंगीन चित्र बनाकर उसमें अपनी बुरी आदतों को लिखकर खिड़की से बाहर उड़ाना , बोर्ड पर अपने लक्ष्य लिखकर चिपकाए संस्कृत भाषा में वाकयों को गायाऔर अन्य समूह गतिविधियों जैसी विशेष गतिविधियों की योजना बनाई थी।

इंदौर। माउन्ट लिट्रा ज़ी स्कूल इंदौर में नए सत्र का प्रारंभ प्रार्थना सभा में सरस्वती मां के श्लोक और वंदना , दीप प्रज्ज्वलन,सुविचार, ज़ी लर्न एंथम, न्यूज हेडलाइनस तथा राष्ट्रगान के साथ हुआ। विद्यालय में महीनों ऑनलाइन के बाद, के कक्षा सहपाठियों का पुनर्मिलन ,स्वागत पोस्टरों, गुब्बारों और फूलों से सजे हमारे स्कूल ने दो साल के अंतराल के बाद कक्षाओं में छात्रों के आने पर उत्सव जैसा रूप धारण किया। शालेय गतिविधियों में संगीत, नृत्य, खेल, कला , फन गेम विथ क्लास टीचर,और शिल्प और छात्रों को कोविड के उचित व्यवहार से परिचित कराने के लिए एक अभिविन्यास सत्र शामिल था।

नर्सरी से 5वीं तक के हमारे शिक्षकों ने पॉप्सिकल्स, मिनी स्कूल बैग, ग्रीटिंग कार्ड , पक्षी का रंगीन चित्र बनाकर उसमें अपनी बुरी आदतों को लिखकर खिड़की से बाहर उड़ाना , बोर्ड पर अपने लक्ष्य लिखकर चिपकाए संस्कृत भाषा में वाकयों को गायाऔर अन्य समूह गतिविधियों जैसी विशेष गतिविधियों की योजना बनाई थी। जहां छात्र स्कूल लौटने के लिए उत्साहित थे, वहीं मास्क पहनने और एक-दूसरे से दूरी बनाए रखने के बावजूद, छात्र अपने शिक्षकों और दोस्तों को देखने के लिए उत्साहित थे।

स्कूल के प्राचार्य श्री मनोज वाजपेयी ने अपने संदेश के माध्यम से समय की पाबंदी समय पर महत्त्व बताया। उन्होंने ईमानदारी, कड़ी मेहनत और छात्रों की बोली में सुधार पर जोर दिया है। संदेश सभी छात्रों के साथ-साथ शैक्षणिक कर्मचारियों के लिए स्पष्ट और स्पष्ट था। वह टीम वर्क में विश्वास करते हैं और इसलिए हम सभी ने अपने स्कूल और खुद की बेहतरी के लिए काम करने का संकल्प लिया।