महापौर व पार्षद पद के उम्मीदवारों के नाम तय, जल्द होगी घोषणा- केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर

सिंधिया और उनके बीच में पेच होने पर सवाल पैदा नहीं होता और ऐसा कहीं कोई पेच नहीं है। नाम तय हो चुके हैं और हम सभी बीजेपी के कार्यकर्ता हैं। हम सभी एकजुट होकर चुनाव लड़ेंगे।

ग्वालियर में नगरीय निकाय चुनाव में टिकट को लेकर घमासान मचा हुआ है। जिसमें केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के बाद अब केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के बंगले पर समर्थकों की भीड़ इकट्ठा हो गई है। बताया जा रहा है कि केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भोपाल में बैठक में शामिल होने के बाद सोमवार को ग्वालियर पहुंचे। इस दौरान सुबह से ही समर्थक अपना बायोडाटा लेकर उनके पास पहुंच गए। केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सभी समर्थकों से बातचीत की और उनका बायोडाटा भी ले लिया।

Must Read- Indore Breaking : आरएसएस ने सभी दायित्व से डॉ निशांत खरे को किया कार्यमुक्त, बन सकते हैं मेयर प्रत्याशी

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बीजेपी आलाकमान ने बैठक में विचार करने के बाद नाम फाइनल कर दिए हैं और जल्द ही नामों की घोषणा की जाएगी। केन्द्रीय मंत्री तोमर ने आगे कहा कि मध्यप्रदेश में महापौर की टिकट को लेकर सिंधिया और उनके बीच में पेच होने पर सवाल पैदा नहीं होता और ऐसा कहीं कोई पेच नहीं है। नाम तय हो चुके हैं और हम सभी बीजेपी के कार्यकर्ता हैं। हम सभी एकजुट होकर चुनाव लड़ेंगे।

Must Read- हिरासत में CM गहलोत, जबरन बस में बैठा कर ले गई दिल्ली पुलिस
बीजेपी इस मामले में कितनी ही सफाई दे दे लेकिन मध्य प्रदेश में भाजपा अभी प्रत्याशियों की सूची जारी नहीं कर पाई है। 2 दिन तक चली कोर ग्रुप की बैठक में महापौर प्रत्याशियों के नाम तय नहीं हो पाए है।  खबर यह मिली थी कि रविवार को सिंधिया की शिवराज से मुलाकात के बाद उम्मीद थी कि देर रात तक सूची जारी हो जाएगी। लेकिन वह भी संभव नहीं हुआ और इसकी वजह माना जा रहा है कि आम सहमति नहीं होने की वजह से तोमर और सिंधिया जैसे नेता अपने लोगों के लिए टिकट की मांग कर रहे हैं। लेकिन अब देखना यह होगा कि महापौर के प्रत्याशियों के लिए क्या दिल्ली को दखल देना पड़ेगी या नहीं। आखिरकार अब सूची किस तरह से जारी होती है और सूची जारी होने के बाद किसके नाम की घोषणा होती है।