राजस्थान में कुछ ऐसा होने जा रहा है, जिससे भारत देश का नाम अब आसमान से भी देखा जा सकेगा। दरसल राजस्थान के पाकिस्तान बॉर्डर से नाजिदकी जिले जैसलमेर के रेगिस्तान में एक अलग प्रकार के पार्क का निर्माण किया जा रहा है, इस पार्क की ख़ास बात ये है की इसका निर्माण कुछ इस तरह किया जा रहा है कि अब आसमान से भी “INDIA” नाम देखा जायेगा। यह पार्क रेगिस्तान के बीचो बीच बनाया जा रहा है और इसमें हरे-भरे पेड़ो को कुछ इस प्रकार लगाया जा रहा है कि आसमां से देखने पर उसमें पेड़ों से ‘INDIA’ लिखा दिखेगा। यह पार्क हमारे देश का पहला ऐसा पार्क होगा जहा हरे-भरे पेड़ो को कुछ इस अंग्रेजी अक्षर “INDIA” लिखा दिखेगा।

यह पार्क भारत पाकिस्तान बॉर्डर पर स्थित जैसलमेर के घोटारू में बीएसएफ चौकी से महज 900 मीटर दूर रेगिस्तान में यह पार्क बन रहा है, और इस पार्क की लम्बाई डेढ़ किलोमीटर और चौड़ाई आधा किलोमीटर बताई जा रहे है। देश के इस पहले पार्क में करीब 6500 पौधे लगाए जाने की तैयारी है। साथ ही इस पार्क की मदद से जैसलमेर में आने वाले पर्यटकों को भी बढ़ावा मिलेगा और पर्यटन को बढ़ावा भी मिल सकेगा।

राजस्थन के जैसलमेर में पाकिस्तान की सीमा के आस पास एक भी टूरिज्म पॉइंट नहीं है, जिस कारण यहाँ के भारत-माला हाइवे के पास इस पार्क का निर्माण किया जा रहा है। यह पार्क ‘ग्रीन इंडिया प्रोजेक्ट’ के तहत विकसित किया जा रहा है। साथ ही इस पार्क के निर्माण में घोटारू क्षेत्र में कार्यरत तेल उत्खनन कंपनी जेआईसी ने एक एनजीओ को बजट उपलब्ध करवाया है, और इस पार्क में INDIA के शाप में पौधे भी रोपे जा रहे हैं। इन लगने वाले वृक्षों को भी खास तौर से चुना गया है जिनके नाम अर्जुन, शीशम, नीम, पीपल समेत कई प्रकार के पौधे है जो एक एनजीओ के द्वारा लगाए जा रहे हैं। यह एनजीओ इस पार्क की तीन साल तक पौधों की देखभाल करेगा इसके बाद इस पार्क को बीएसएफ को सौंप दिया जाएगा और फिर बीएसएफ ही इस पार्क की देखभाल करेगी।