रुद्राक्ष महोत्सव में 3 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं की भीड़ से हिली व्यवस्था, स्थगित हुआ कार्यक्रम

सीहोर में प्रसिद्ध कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा जी (pandit pradeep mishra) कुबेरेश्वर धाम में रुद्राक्ष महोत्सव के आयोजन में कथा वाचन कर रहें थें।

सीहोर में प्रसिद्ध कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा जी (pandit pradeep mishra) कुबेरेश्वर धाम में रुद्राक्ष महोत्सव के आयोजन में कथा वाचन कर रहें थें. 7 दिवसीय ये आयोजन विठलेश सेवा समिति द्वारा किया जा रहा था. जिसमें आज 3 लाख से भी ज्यादा लोग पहुँच गए, इस वजह से सारी व्यवस्थायें अनियंत्रित हो गई. बताया जा रहा है कि लगभग 40 किलोमीटर लंबा जाम लगने की खबर सामने आई थी. ऐसा कहा जा रहा है कि 7 दिन में करीब 15 लाख श्रद्धालु आएंगे. इस वजह से इस कार्यक्रम को यही रोक दिया गया.

यह भी पढ़े – रुद्राक्ष महोत्सव स्थगित होने पर रो पड़े Pandit Pradeep Mishra , अब भक्तों को घर-घर भेजेंगे रुद्राक्ष

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि इस महोत्स्व में सिर्फ कुछ हजारों की भीड़ आएगी। लेकिन, यहां करीब 3 लाख से भी ज्यादा लोग पहुंच गए. जिसके चलते सभी व्यवस्थायें अनियंत्रित हो गई है. हाल ही में खबर भी सामने आई थी कि यहां करीब 40 किलोमीटर तक का लंबा जाम भी लग गया है.

यह भी पढ़े – Monalisa की लग्जरी सवारी पर फिदा हुए फैंस, देखें हॉट फोटोज

ऐसे में पंडित मिश्रा ने कहा कि गुलाब के फूल में सुन्दरता और कांटे दोनों होते हैं. पर लोग कांटों की कहां परवाह करते हैं, गुलाब के लिए।इस दौरान जितनी उन्हें इस कार्यक्रम के आयोजन होने को लेकर ख़ुशी थी उतना ही इसे स्थगित करने पर उन्हें दुख हुआ. दरअसल, व्यास गादी पर बैठे मिश्रा ने आयाेजन निरस्त करने की घोषणा की. तब ही उनकी आँखों से आंसू छलक आए. यह देख वहां मौजूद लाखों श्रद्धालुओं ने हाथ हिलाकर मना किया और फफक पड़े.