Posted inआर्टिकल

राष्ट्रीय प्रथम, यही हमारा धर्म – जयराम शुक्ल

खानवा के युद्ध में राणा सांगा के हमलों से पस्त बाबर ने अपने जासूसों को आदेश दिया कि यह पता लगाकर बताएं कि दुश्मन (राणा सांगा) की फौज की कमजोर “नस” क्या है? खोज-खबर के बाद जासूसों ने बाबर को बताया कि राजपूत सिपाही गोवंश की पूजा करते हैं, मर जाएंगे पर गोवध नहीं कर […]