कारम डैम की घटना पर प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने की सीएम शिवराज की तारीफ, कही ये बात…

आज तक के इतिहास में ऐसा कोई भी मुख्यमंत्री नहीं होगा जिसने सूचना मिलते ही सक्रिय रूप से आपदा प्रबंधन के कार्य मे ऐसी भूमिका निभाई हो। इस बात की जानकारी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को जैसे ही मिली तब से ही वह इस घटना पर कड़ी नजर बनाए हुए थे।

धार: धार के कारम डैम में मिट्टी का टीला वह जाने के बाद बहुत तेजी से पानी बह रहा था, जिसे चिंता काफी बढ़ गई थी। लेकिन अब सामने आई खबर के मुताबिक संकट टल चुका है और पानी का बहाव बहुत कम हो गया है और धीरे-धीरे यह खत्म हो रहा है। कारम डैम से पानी लीकेज होने से सरकार की नींद उड़ गई थी। लेकिन अब स्थिति नियंत्रण में आने के बाद बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कारम डैम का जिक्र कर मुख्यमंत्री की तारीफ की है।

दरअसल बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने कहा कि “मैं बीजेपी के सबसे लोकप्रिय संवेदनशील मुख्यमंत्री को बधाई देता हूं और उन्हें इस बात के लिए भी धन्यवाद देता हूं कि जब से उन्हें कारण डैम के अंदर से पानी के लीकेज होने की जानकारी मिली तब से ही वह आपदा प्रबंधन के कार्य मे जुट गए। आज तक के इतिहास में ऐसा कोई भी मुख्यमंत्री नहीं होगा जिसने सूचना मिलते ही सक्रिय रूप से आपदा प्रबंधन के कार्य मे ऐसी भूमिका निभाई हो। इस बात की जानकारी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को जैसे ही मिली तब से ही वह इस घटना पर कड़ी नजर बनाए हुए थे। इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी इस घटना में बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। वीडी शर्मा ने कहा कि आप यह सोच रहे हैं कि मैं भाजपा के कार्यकर्ताओं का जिक्र क्यों कर रहा हूं लेकिन आपको बता दूं कि जबसे डैम से पानी लीकेज होने की जानकारी मिली तब से किसी प्रकार की घटना दुर्घटना नहीं हो इसको लेकर लगातार कार्यकर्ता काम कर रहे थे, इस दौरान लोगों को भी अलग करना जैसे कई महत्वपूर्ण काम किए गए”।

Must Read- इंदौर: बारिश के चलते प्रमुख पिकनिक स्पाट हुए बंद, धारा 144 के तहत जारी किया आदेश
प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने मुख्यमंत्री के कुशल प्रबंधन की भी तारीफ की। उन्होंने आगे कहा कि “डैम से पानी लीकेज होने की जानकारी मिलने के बाद शासन प्रशासन को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का उक्त जगह पर कंट्रोल रूम बनाकर बैठना और पूरी स्थिति पर नियंत्रण कैसे करना, कई महत्वपूर्ण बातों पर ध्यान में रख कर इतना कुशल प्रबंधन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ही कर सकते है। यहा तक की पानी का स्तर लगातार बढ़ रहा था उसे कैसे प्रबंधन किया जाए, यह सब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कर के दिखाया है। इतिहास में यह कुशल प्रबंधन की एक घटना है, लेकिन मुख्यमंत्री सिंह ने यह करके दिखाया है”।