दिल्ली में आरोपी आफताब पूनावाला ने अपनी प्रेमिका की हत्या कर टुकड़ों को जंगल में फेक दिया थे। इस मामले में दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में अर्जी दाखिल की थी। इस पर गुरुवार को सुनवाई करते हुए दिल्ली कोर्ट ने आरोपी की 5 दिन और रिमांड बड़ा दी है। वहीं, आरोपी की नार्को टेस्ट कराने की मंजूरी दे दी है। यह सुनवाई कोर्ट के सामने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये कोर्ट के समक्ष पेश किया था।

VC के जरिए हुई पेशी 

वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये कोर्ट के सामने आरोपी पेश करने वाले सवाल पर महानगर मजिस्ट्रेट अविरल शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली पुलिस ने आवेदन दिया था कि आरोपी को धार्मिक समूहों को जान से मारने की धमकी मिली थी। गुरुवार शाम 4 बजे पुलिस ने आरोपी आफताब को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये कोर्ट के समक्ष पेश किया था। वहीं कोर्ट ने आरोपी की पुलिस रिमांड बढ़ाते हुए बताया, मैं इस मामले की संवेदनशीलता को समझता हूं।

मृतका के पिता ने ये कही बात

वहीं श्रद्धा के पिता ने ANI से बात करते हुए बताया, “आफताब बहुत चालाक है, उसने पिछले पांच-छः महीने में हत्या के सारे सबूत चालाकी से मिटा दिए हैं। इसलिए पुलिस को सच्चाई सामने लाने में थोड़ी तकलीफ होगी। मैं तब तक राहत सांस नहीं लूंगा, जब तक हत्यारे को मौत की सजा नहीं मिल जाती है।

पुलिस के अनुसार

28 वर्षीय पूनावाला ने अपनी ‘लिव-इन पार्टनर’ श्रद्धा वालकर (27) की गत 18 मई की शाम को कथित तौर पर गला घोंट कर हत्या कर दी थी और उसके शव के 35 टुकड़े कर दिए, जिन्हें उसने दक्षिण दिल्ली के महरौली में अपने आवास पर लगभग तीन सप्ताह तक 300 लीटर के फ्रिज में रखा तथा कई दिनों तक विभिन्न हिस्सों में फेंकता रहा।