जूते चप्पल से भी बदल सकता है आपका भाग्य, जानिए कैसे

आज के समय में हर कोई अलग अलग तरह की स्टाइलिश चपल जूते पहनना पसंद करता है। आजकल ये लोगों के लिए एक स्टेटस सिंबल का काम कर रहा है।

Shoes can change your fate even with slippers

आज के समय में हर कोई अलग अलग तरह की स्टाइलिश चपल जूते पहनना पसंद करता है। आजकल ये लोगों के लिए एक स्टेटस सिंबल का काम कर रहा है। जी हां, ये इसलिए क्योंकि आजकल जूते चपलों से भी लोगों के जीवन और व्यक्तित्व का पता लगाया जा सकता हैं। आज हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी विस्तार से बताने जा रहे हैं। तो चलिए जानते है कैसे जूते चप्पल लोगों का भाग्य बदल देते है या फिर कैसे जूते चप्पल लोगों को परेशानियों में डाल देते हैं।

ज्योतिषों के अनुसार, जब हम लोग जूते चप्पल खरीद कर पहनते हैं तो हमें बहुत अच्छा महसूस होता है। हम ऊर्जावान प्रतीत करते हैं। साथ ही हमारा कॉन्फिडेंस भी काफी बढ़ जाता है। इसलिए कहा जाता है कि जूते चप्पल हमारे जीवन में बहुत ज्यादा प्रभाव डालते है। लेकिन कई बार यही जूते चप्पल परेशानियां खड़ी कर देते हैं। ये इसलिए क्योंकि शास्त्रों में कुछ दिन ऐसे बताए गए है जिनमें जूते चपल खरीदना अशुभ माना जाता है ऐसे में यदि आप उन दिनों में खरीद लेते है तो आपका भाग्य अच्छा होने की बजाए परेशानियों में बदल जाता है।

इस दिन नहीं खरीदें जूते चप्पल –

ज्योतिषों के अनुसार, जब हमें लगता है तब हम अपने बूट्स बदल लेते है। और तुरंत नए जूते चपल लेने चले जाते हैं। ऐसे में हम ये भी नहीं देखते है की कौन दिन है और इस दिन ये खरीदना चाहिए या नहीं। जी हां कहा जाता है कि अमावस्या, मंगलवार, शनिवार या ग्रहण वाले दिन ये नहीं खरीदना चाहिए। क्योंकि इसे अशुभ माना जाता है। ये दुर्भाग्य ला सकता है। इन दिनों में ये खरीदने से खरीदने से नुकसान की सम्भावना अधिक रहती है।

इस जगह नहीं पहन कर जाए जूते –

जानकारी के मुताबिक, जूते चप्पल पहनकर कभी भी घर की तिजोरी या जहां हम पैसा रखते हैं वहां कभी नहीं जाना चाहिए। ये इसलिए क्योंकि ऐसा करने से धन लक्ष्मी रुष्ट जाती हैं। ये भी कहा जाता है कि धन को छूने से भी मां लक्ष्मी का अपमान होता है।

इसके अलावा ये भी कहा जाता है कि जूते-चप्पल पहनकर किचन में भी नहीं जाना चाहिए। ये इसलिए क्योंकि इससे मां अन्नपूर्णा नाराज़ हो जाती है। ऐसे में परिवार में विश्वास की कमी होती है।

साथ ही कहा जाता है कि नदी या तालाब में भी जूते-चप्पल पहनकर नहाने नहीं जाना चाहिए। कहा जाता है कि ऐसा करने से भाग्य रूठ जाता है। इस ही लिए मंदिर या पवित्र जगहों भी नहीं जाते है ये सब पहन कर।