ढलान पर रुके हुए इस रहस्यमयी विशाल पत्थर को हिलाने में ढेर हुए सात हाथी, जानिए इसकी वजह

0
35

दुनियाभर में ऐसी कई सारी चीज़े हैं जिनके रहस्य आज तक कोई नहीं सुल्जा पाया है. आज हम आपको एक ऐसे ही और रहस्य के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे सुनकर हर कोई हैरान हो जाता है. तमिलनाडु के शहर महाबलिपुरम में एक प्राचीन पत्थर मौजूद है, जो आज तक किसी भी काम में नहीं आया, लेकिन स्थानीय लोगों का कहना है कि यह पत्थर करीब 1200 साल पुराना है. सिर्फ इतना ही नहीं, हैरान करने वाली बात तो यह है कि इस पत्थर को आज तक कोई भी नहीं हिला पाया है.

जानकारी के मुताबिक, यह रहस्यमयी पत्थर करीब 20 फीट ऊंचा है और करीब 15 फीट इसकी चौड़ाई है. वहीं यह पत्थर एक ढलान पर रहस्यमयी टिके से टिका हुआ है, जो न तो कभी हिलता है और ना ही कभी लुढ़क पाता है. कुछ लोग इस पत्थर को श्रीकृष्ण के माखन की गेंद कहकर भी पुकारते हैं.

लोगों का कहना है कि श्रीकृष्ण द्वारा बाल्यावस्था में इस जगह पर थोड़ा सा माखन गिरा दिया गया था, जो अब एक विशाल पत्थर के रूप में बदल गया है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि साल 1908 में इस पत्थर को पहली बार खोजा गया था. सिर्फ इतना ही जानकारी के अनुसार, इस पत्थर पत्थर को ढलान से नीचे लाने के लिए सात हाथियों को बंधकर खिंचवाया गया था, लेकिन यह पत्थर अपनी जगह से ज़रा सा भी नहीं हिला था. यह पत्थर आज भी सभी के लिए रहस्य बना हुआ है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here