सेरोसॉफ़्ट ने बड़े उत्साह से मनाया आज़ादी का अमृत महोत्सव, डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन पर विचार करने की कही बात

सेरोसॉफ़्ट ने बड़े उत्साह से मनाया आज़ादी का अमृत महोत्सव.

भारत की आज़ादी का अमृत महोत्सव प्रगतिशील भारत और इसके समृद्ध इतिहास, विविध आबादी, शानदार संस्कृति और महान उपलब्धियों के 75 गौरवशाली वर्षों को मनाने के लिए भारत सरकार की एक पहल है।

सेरोसॉफ़्ट भी भारत सरकार के इस पहल में एक बड़ा भागीदार है। सेरोसॉफ़्ट ने आज एक विशेष आयोजन में अपने कार्यालय में आज़ादी का अमृत महोत्सव अति उत्साहपूर्वक मनाया। कर्मचारियों ने आज़ादी और उसके महत्व पर अपने विचार बढ़ चढ़कर प्रस्तुत किये। स्वतंत्रता के इस उत्सव पर सभी का उत्साह देखने योग्य था।

Must Read- इंदौर: बारिश के चलते प्रमुख पिकनिक स्पाट हुए बंद, धारा 144 के तहत जारी किया आदेश

अपने सन्देश में सेरोसॉफ़्ट के सीईओ एवं एम डी अर्पित बड़जात्या ने इस अवसर पर बताया की “राष्ट्र निर्माण में अपने योगदान के तहत हम 2030 तक अपनी फर्म से प्रभावित शिक्षार्थियों की संख्या को 7 लाख से बढ़ाकर 20 लाख करने वाले हैं। हम आने वाले वर्षों में 2000 से अधिक शैक्षणिक संस्थानों के डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन पर भी विचार कर रहे हैं।”

सेरोसॉफ़्ट ने सदैव समाज और देश के प्रति अपने दायित्व का निर्वहन किया है। समाज में सकारात्मक बदलाव लाने के उद्देश्य से, सेरोसॉफ्ट ने स्वच्छ भारत मिशन को 23 लाख की बड़ी का राशि दान किया है और भविष्य में भी सहयोग करने को प्रतिबद्ध हैं। अर्पित कहती हैं, ”इंदौर और भारत को स्वच्छ रखने के हम बड़े विश्वासी हैं। सेरोसॉफ्ट को इंदौर और मध्य भारत के आईटी क्षेत्र में अग्रणी होने पर गर्व है और शिक्षा क्षेत्र के विकास और डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन की दिशा में योगदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। इन 75 वर्षों में भारत प्रगति के क्षेत्र में अग्रणी रहा है और आने वाले वर्षों में काफी तेज़ी से विकास करेगा।”