Home more आर्टिकल इंदौर में ईवीएम मशीनों की सुरक्षा खतरे में, गड़बड़ी पकड़ने वाले कांग्रेस...

इंदौर में ईवीएम मशीनों की सुरक्षा खतरे में, गड़बड़ी पकड़ने वाले कांग्रेस के प्रतिनिधि से अधिकारी ने मोबाइल छीन कर तोड़ा

चुनाव में ईवीएम मशीन के माध्यम से गड़बड़ी किए जाने के मामले हमेशा सामने आते रहे हैं। आज इंदौर नगर निगम के चुनाव के लिए ईवीएम मशीनों को निर्वाचन कार्यालय से नेहरू स्टेडियम में शिफ्ट करने का काम किया गया।

इंदौर। आगामी छह जुलाई को होने वाले इंदौर नगर निगम के चुनाव के लिए उपयोग की जाने वाली ईवीएम मशीनों की सुरक्षा खतरे में पड़ गई है। इस स्थिति पर जब कांग्रेस के द्वारा आपत्ति ली गई तो रात में 9:30 बजे नेहरू स्टेडियम में दीवार बनाने का काम शुरू किया गया। कांग्रेस की आपत्तियों से नाराज हुए उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने कांग्रेस के प्रतिनिधि का मोबाइल छीन कर तोड़ दिया। चुनाव में ईवीएम मशीन के माध्यम से गड़बड़ी किए जाने के मामले हमेशा सामने आते रहे हैं। आज इंदौर नगर निगम के चुनाव के लिए ईवीएम मशीनों को निर्वाचन कार्यालय से नेहरू स्टेडियम में शिफ्ट करने का काम किया गया। यह काम सुबह से शुरू हुआ जो कि रात तक चलता रहा। रात में स्टेडियम के जिस कमरे में इन मशीनों को रखा जा रहा था, उस पर कांग्रेस के प्रतिनिधि राकेश भारद्वाज के द्वारा आपत्ति ली गई ।

Must Read- जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र घर पर निशुल्क भेजने की व्यवस्था होगी, भाजपा 20 साल के विकास के बाद भी शहर की बदहाली की जिम्मेदारी ले- संजय शुक्ला
उन्होंने कहा कि यह कमरे सुरक्षित नहीं है। कमरों में लगाई गई जालियां टूटी हुई है। ऐसे में बाहर से कोई भी व्यक्ति आसानी के साथ इन कमरों में आकर ईवीएम मशीन के साथ कुछ भी कर सकता है। यह आपत्ती लेने के साथ ही साथ भारद्वाज के द्वारा जिस तरह से ईवीएम मशीनें रखी जा रही थी और जिस तरह से कमरे में प्रवेश का स्थान मौजूद था, उसका वीडियो बना लिया। भारद्वाज के द्वारा ली गई आपत्ति के बाद पहले तो प्रशासन के अधिकारियों ने मामले को टालने की कोशिश की लेकिन जब हर स्थिति की वीडियो बनाकर भारद्वाज लिखित में आपत्ति लगाने लगे। तो फिर प्रशासन के द्वारा रात में 9:30 बजे नेहरू स्टेडियम में दीवार बनाने का काम शुरू किया जाने लगा। इस पर फिर भारद्वाज ने आपत्ति ली। अब यह दीवार बनाई जा रही है। ऐसे में रात में कोई एक-दो घंटे में यह दीवार नहीं सूख जाएगी। ऐसी स्थिति में यह दीवार कमजोर रहेगी और उसे गिरा कर अंदर आना किसी के लिए भी आसान रहेगा। इस आपत्ति के सामने आते ही निर्वाचन कार्यालय के उप जिला निर्वाचन अधिकारी गुस्से में आ गए। उन्होंने तत्काल भारद्वाज के हाथ से मोबाइल छीना और उसे तोड़ दिया। इसके साथ ही नेहरू स्टेडियम में इस समय हंगामे की स्थिति बन गई है। जिला निर्वाचन कार्यालय अधिकारी मनमानी करते हुए मशीनों को सुरक्षित करने में लगे हैं। इस बारे में राज्य निर्वाचन अधिकारी को भी शिकायत की जा रही है।