शाजापुर के उफनते नाले में फंसी स्कूली बस, 25 से ज्यादा बच्चो की जान पर आई मुसीबत

देश भर में मानसून से हाहाकार मचा हुआ है,

देश भर में मानसून से हाहाकार मचा हुआ है, नॉर्थ से लेकर साउथ तक बारिश और बाढ़ से कोई शहर अछूता नहीं है, 2 दिन के बाद शनिवार को मानसून फिर मध्यप्रदेश में सक्रीय हुआ जिसके चलते शाजापुर में शनिवार को एक स्कूल बस उफनते नाले में फंस गई। 25 से ज्यादा बच्चे घंटेभर फंसे रहे। ग्रामीणों ने उन्हें सुरक्षित निकाला। कलेक्टर दिनेश जैन ने स्कूल संचालक काे नोटिस देने के साथ बस ड्राइवर का लाइसेंस निरस्त करने सहित मामला दर्ज करने के निर्देश दिए।

शनिवार को शहर में हल्की बारिश हुई जो आंकड़ों में 1 मिलीमीटर रिकॉर्ड हुई। शनिवार को दिनभर कहीं रिमझिम तो कहीं हल्की बारिश हुई। बारिश करने वाली ट्रफ लाइन मध्यप्रदेश में सक्रिय है। इस कारण इंदौर सहित प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में पानी बरस रहा है। अब तक इंदौर में 17.6 इंच बारिश हो चुकी है। शहर में औसत 34 इंच पानी बरसता है। इसका आधा पानी मिल चुका है। महीना खत्म होने तक कुल बारिश 18 इंच से अधिक तक पहुंच जाएगी। राहत की बात यह है कि अब तक की बारिश ने शहर के पीने के पानी की चिंता खत्म कर दी है। यशवंत सागर पूरा भरा चुका है। बिलावली तालाब में भी 20 फीट पानी आ चुका है। क्षमता से यह अभी 14 फीट खाली है। बारिश खत्म होने तक यह भी पूरी क्षमता के आसपास तक भरा जाएगा।

अगले 24 घंटे मध्यप्रदेश में मानसून सक्रीय रहेगा जिसके चलते कही हलकी तो कहीं तेज बारिश होने की सम्भावना है पिछले साल इस समय तक शहर में 5.9 इंच ही पानी बरसा था। इस बार 17.6 इंच बारिश हो चुकी है। पिछले साल के मुकाबले इस साल अब तक 11.7 इंच पानी ज्यादा बरस चुका है। इस आंकड़े में और भी इजाफा होने के पूरे आसार हैं। जुलाई के बचे हुए दिनों में 1 इंच के करीब पानी और बरस सकता है।