सावन सोमवार : भक्तों के लिए डेढ़ घंटे पहले जागे बाबा महाकाल

0
118

उज्जैन। सावन माह के पहले सोमवार को लेकर शिव भक्तों में खासा उत्साह देखने को मिला। देशभर के प्रसिद्ध शिव मंदिरों में श्रद्धालुओं ने पहुंचकर विशेष पूजा-अर्चना की। वहीं 12 ज्योर्तिलिंगों में से एक उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में भी भक्तों का सैलाब उमड़ा हुआ है। सुबह की भस्म आरती के बाद बाबा महाकाल की सुबह की आरती हुई।

बताया जा रहा है कि सावन माह का पहल सोमवार होने से बाबा महाकाल आज डेढ़ घंटे पहले ही जाग गए थे। तड़के सुबह तीन बजे भगवान महाकालेश्वर का दूध-दही से अभिषेक किया गया, जिसके बाद विधि-विधान से पंडे-पुजारियों ने महाकाल की भस्म आरती की। खास बात है कि आज डेढ़ घंटे पहले ही महाकाल की आरती की गई।

नगर भ्रमण पर निकलेंगे बाबा

भगवान महाकालेश्वर के मनमहेश स्वरूप का विधिवत पूजन.अर्चन महाकाल मंदिर के सभा मंडप में होने के बाद बाबा पालकी में विराजित होकर नगर भ्रमण पर निकलेंगे। भगवान की सवारी मंदिर से अपने निर्धारित समय शाम 4 बजे निकलेगी। मंदिर के मुख्य द्वार पर सशस्त्र पुलिस बल के जवानों द्वारा भगवान मनमहेश को सलामी (गार्ड ऑफ ऑनर) दी जाएगी।

पालकी यात्रा कार्यक्रम तय

भगवान महाकालेश्वर की दूसरी सवारी 29 जुलाई को निकलेगी। इसमें पालकी में भगवान चंद्रमौलेश्वर के स्वरूप में और हाथी पर मनमहेश के स्वरूप में विराजित होंगे। तीसरी सवारी नागपंचमी पर 5 अगस्त को निकाली जाएगी। इस दौरान पालकी में भगवान चंद्रमौलेश्वर के स्वरूप में रहेंगे, हाथी पर मनमहेश के स्वरूप में और गरूड़ रथ पर शिवतांडव के स्वरूप में विराजित होंगे। इसी प्रकार चैथी सवारी 12 अगस्त को निकाली जाएगी, जिसमें पालकी में श्री चंद्रमौलेश्वर, हाथी पर श्री मनमहेश, गरूड़ रथ पर शिवतांडव और नन्दी रथ पर उमा-महेश के स्वरूप में विराजित होंगे। भगवान की पांचवीं सवारी 19 अगस्त को निकलेगी। इस दौरान पालकी में श्री चंद्रमौलेश्वर, हाथी पर श्री मनमहेश, गरूड़ रथ पर शिवतांडव, नन्दी रथ पर उमा-महेश और डोल रथ पर होल्कर स्टेट का मुखारविंद रहेगा। अंतिम शाही सवारी 26 अगस्त को निकाली जाएगी। इस दौरान पालकी में भगवान चन्द्रमौलेश्वर के स्वरूप में हाथी पर श्री मनमहेश के स्वरूप में, गरूड़ रथ पर शिवतांडव के स्वरूप में, नन्दी रथ पर श्री उमा-महेश के स्वरूप में, डोल रथ पर होल्कर स्टेट के मुखारविंद स्वरूप में और रथ पर सप्तधान्य मुखारविंद स्वरूप में रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here