Breaking News

फूलन देवी के हत्यारे शेर सिंह राणा को सपाक्स इंदौर से दे सकती है लोकसभा का टिकट | Lok Sabha Ticket can be given from Indore to this Candidate…

Posted on: 23 Apr 2019 20:59 by bharat prajapat
फूलन देवी के हत्यारे शेर सिंह राणा को सपाक्स इंदौर से दे सकती है लोकसभा का टिकट | Lok Sabha Ticket can be given from Indore to this Candidate…

ंइंदौर से काँग्रेस और बीजेपी ने अपने लोकसभा उम्मीद्वारों की सूची जारी कर दी है। वहीं सपाक्स ने अभी तक इस सीट से अपना प्रत्याशी नही उतारा है। खबरों की माने तो पार्टी सपा नेत्री फूलन देवी की हत्या में दोषी ठहराए गए शेर सिंह राणा को इंदौर से लोकसभा टिकट दे सकती है। बता दे कि फिलहाल राणा जमानत पर बाहर है।

सपाक्स पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी ने मंगलवार को ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि ‘‘सपाक्स के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जोगेंद्रसिंह भदौरिया ने राणा को इंदौर लोकसभा सीट से हमारी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ाने का प्रस्ताव रखा है। हंम इस प्रस्ताव को लेकर विभिन्न पहलुओं पर विचार कर रहे हैं।”

साथ ही त्रिवेदी ने कहा कि ‘‘सपाक्स पार्टी की जल्द आयोजित होने वाली आगामी बैठक में राणा को इंदौर से चुनाव लड़ाने पर अंतिम फैसला किया जाएगा। वैसे हम सूबे की 29 में से 11 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं जिनमें इंदौर शामिल है।”

वही राणा ने अपने लोसभा चुनाव लड़ने पर कहा कि ‘‘हमने इसी साल जनवरी में राष्ट्रवादी जनलोक पार्टी (आरजेपी) बनायी है। चूंकि इस दल के पंजीकरण की प्रक्रिया चुनाव आयोग में फिलहाल लंबित है। इसलिये सपाक्स के साथ आरजेपी के प्रस्तावित गठबंधन के तहत मुझे इंदौर से सपाक्स के चुनाव चिह्न पर लोकसभा चुनाव लड़वाने पर विचार किया जा रहा है।”

राणा ने बताया कि ‘‘दिल्ली उच्च न्यायालय में आवेदन प्रस्तुत कर जल्द गुहार की जाएगी कि मुझे इंदौर से लोकसभा चुनाव लड़ने की अनुमति दी जाए। अगर मुझे अदालत से चुनाव लड़ने की अनुमति नहीं मिलती है, तो मेरी पत्नी प्रतिमा राजे राणा (31) को इंदौर से चुनाव लड़ाने पर विचार किया जा सकता है जो मध्यप्रदेश से ही ताल्लुक रखती हैं।”

बता दे कि उत्तरप्रदेश के मिर्जापुर से तत्कालिन सपा सांसद फूलन देवी (37) की दिल्ली में 25 जुलाई 2001 को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में दिल्ली के एक कोर्ट ने 8 अगस्त 2014 को राणा को दोषी करार देते हुए 14 अगस्त 2014 को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। हाँलाकि इस मामले में दिल्ली उच्च न्यायालय ने राणा को अक्टूबर 2016 में जमानत पर रिहा कर दिया था।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com