रूस ने बनाई दुनिया की सबसे लंबी पनडुब्बी, पल भर में बड़े शहर को तबाह करने में सक्षम

0
62

रूस लगातार अपनी सैन्य ताकत में आगे बढ़ता जा रहा है. अब हाल ही में रूस नेवी ने दुनिया की सबसे लंबी पनडुब्बी बेलगोरोडको अपनी नौसेना में शामिल कर लिया है. इसकी ताकत के आगे कोई भी हतियार नहीं माना जा रहा है. इसके वजह यह है कि, यह पल भर में एक बड़े शहर को खाक करने में सक्षम है.

जानकारी के मुताबिक, इस पनडुब्बी का परिक्षण अगले साल शुरू किया जाएगा. बता दें कि विश्व में रूस और अमेरिका सबसे ज्यादा पनडुब्बियों तो ऑपरेट करते हैं. भारत भी रूसी अकूला क्लास की पनडुब्बियों का संचालन कर रहा है. इसके अलावा जल्द एक और परमाणु ताकत से लैस पनडुब्बी रूस से खरीदे जाने की योजना है.

इस लंबी पनडुब्बी बेलगोरोड की लंबाई करीब 604 फीट है. जो छह परमाणु तारपीडो से लैस है. यह रूस सैन्य की सबसे बड़ी ताकत साबित होने जा रही है. यह पनडुब्बी अपने गुपचुप तरीके के से मिशन को अंजाम देने में माहिर है. विशेषज्ञों ने संभावना जताई है कि अगर इन परमाणु तारपीडो में से किसी एक का भी प्रयोग किया जाता है तो समुद्र में रेडियोएक्टिव सुनामी आ सकती है. इस पनडुब्बी की तैनाती अमेरिका समेत कई देशों के लिए खतरा बन सकती है.

इस पनडुब्बी की क्षमता अमेरिका द्वारा जापान के हिरोशिमा पर गिराए गए परमाणु बम से 130 गुना ज्यादा है. सोवियत संघ के विघटित होने के बाद से रूस कमजोर हो गया था. इसके अलावा अमेरिका और उसके सहयोगी देशों के प्रतिबंधों ने रूसी अर्थव्यवस्था को बहुत नुकसान पहुंचाया था। रूस कई देशों को युद्धक हथियार बेचकर मुनाफा कमा रहा है.

इस पनडुब्बी की पानी में रफ़्तार की बात करें तो यह 80 मील प्रतिघंटा की रफ्तार से चल सकती है. जो समुद्र के अंदर 1700 फीट गहराई तक जा सकेगी. इस पनडुब्बी को सोनार से पता लगाना बहुत मुश्किल है.

Read More:चीन ने बदला अपना रुख, इस मुद्दे पर किया भारत का समर्थन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here