राखी स्पेशल: इतना खास हैं यह मंदिर, बहनों के लिए साल में एक बार खुलता हैं

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार इस मंदिर का निर्माण पांडवों के काल में हुआ था। राखी की सुबह इस मंदिर के कपाट खुलते है और शाम को सूरज ढलने से पहले तक यहां पूजा अर्चना की जाती है

0
120

रक्षाबंधन का त्योहार देश में कई युगों से मनाया जा रहा हैं। इस एक दिन का इंतजार साल भर हर भाई बहन को रहता हैं। रक्षा बंधन नाम से ही समझार सकते हैं कि रक्षा का बंधन है। जहां बहन अपने भाई की लंबी उम्र की कामना करती हैं वहीं भाई भी अपनी बहन को उसकी रक्षा का वचन देता हैं।

भाई-बहन का यह त्योहार इतना खास है कि यह सिर्फ एक खास धर्म तक ही सीमित नहीं रहा है। यूं तो राखी का त्योहार हिन्दू धर्म का विशेष त्योहार हैं लेकिन समय के साथ अब सभी धर्मों में इस त्योहार का विशेष महत्व माना जाने लगा हैं। माना जाता है कि इस दिन जिन बहनों के भाई नहीं होते वे भगवान को राखी बांधती हैं। इसके अलावा भी कई बहने अपने भाई के साथ भगवान को भी राखी बांधती हैं।

आज हम आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में बता रहे हैं जो कि सिर्फ राखी दिन ही खुलता हैं। जी हां बद्रीनाथ में मौजूद एक खास विष्णु मंदिर हैं जिसके कपाट मात्र रक्षाबंधन के दिन के लिए खोले जाते हैं। पूरे साल बंद रहने वाला यह मंदिर सिर्फ एक दिन के लिए ही खुलता है।

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार इस मंदिर का निर्माण पांडवों के काल में हुआ था। राखी की सुबह इस मंदिर के कपाट खुलते है और शाम को सूरज ढलने से पहले तक यहां पूजा अर्चना की जाती है, इसके बाद फिर से 364 दिन के लिए बंद हो जाता है।

इस साल भी रक्षाबंधन के दिन यानी 15 अगस्त को इस मंदिर के कपाट खुलेगे और फिर पूजा-अर्चना के बाद शाम को बंद हो जाएगे। लोग अभी से मंदिर में दर्शन करने का इंतजार कर रहे हैं खासतौर पर बहनें इस मंदिर में जाकर भगवान के दर्शन कर अपने भाइयों को राखी बांधती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here