बारिश का कहर जारी, नर्मदा नदी के रौद्र रूप से मचा हाहाकार

0
157

इंदौर। मप्र में पिछले चार दिन से हो रही जोरदार बारिश की वजह से कई जिलों में बाढ़ आ गई है। प्रदेश के अधिकतर डेम लबालब होने से पानी छोड़ा जा रहा है। इस वजह से नर्मदा, चंबल सहित अन्य नदियों का जलस्तर खतरे के निशान से उपर है। बाढ़ में फंसे हजारों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया, जबकि स्थानीय प्रशासन ने स्कूल-काॅलेजों की छुट्टी घोषित कर रखी है। इधर, मौसम विभाग ने बुधवार को प्रदेश के 38 जिलों में हाई अलर्ट जारी किया है।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि राज्य में भारी बारिश का दौर जारी रहेगा और राज्य के 38 जिलों में सामान्य से भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे के लिए रेड अलर्ट, ऑरेंज अलर्ट और येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार, छत्तीसगढ़ और गुजरात के आसपास कम दवाब का क्षेत्र बना है और द्रोणिका का भी असर है, जिससे राज्य में बारिश का क्रम बना हुआ है। रेड अलर्ट यानी की अत्यधिक भारी बारिश की चेतावनी हरदा, होशंगाबाद, नीमच, मंदसौर, रायसेन, नरसिंहपुर, सीहोर और रतलाम के लिए जारी की गई है।

हरदा में भारी बारिश की वजह से पूरा जेल परिसर डूब गया है। ऑरेंज अलर्ट यानी की अति भारी बारिश की चेतावनी बड़वानी, दमोह, देवास, धार, इंदौर, राजगढ़, विदिशा, और उज्जैन जिले के लिए दी गई है। अगर बात येलो अलर्ट यानी कि भारी बारिश की करें तो भोपाल, आगर, आलीराजपुर, अशोकनगर, बालाघाट, बैतूल, बुरहानपुर, छिंदवाड़ा, गुना, जबलपुर, खंडवा, खरगोन, मंडला, शाहजहांपुर, सागर, और सिवनी जिले इसकी चपेट में आ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here