प्रोफेसर की Research: ऐसे कम की जा सकती है मकान निर्माण की लागत, पढ़े यहां

विक्रम विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट में एक ऐसी रिसर्च की गई है जिसकी मदद से मकान बनाने की लागत 10 से 12 प्रतिशत तक कम की जा सकती है।

विक्रम विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट में एक ऐसी रिसर्च की गई है जिसकी मदद से मकान बनाने की लागत 10 से 12 प्रतिशत तक कम की जा सकती है। इस रिसर्च में खासतौर पर इस बात पर ध्यान रखा गया है कि मकान निर्माण की लागत तो कम हो लेकिन मजबूती और टिकाऊपन ज्यादा बना रहे।
स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के सिविल इंजीनियरिंग प्राध्यापक मोहित कुमार प्रजापति ने 6 महीने की अवधि के दौरान यह रिसर्च तैयार की। उन्होंने जी प्लस 8 बिल्डिंग को आधार बनाकर ट्रायल एनालिसिस रिसर्च की और लैब से इसके परिणाम भी बेहतर आए। मोहित कुमार प्रजापति ने अपनी रिसर्च में सरिए और आरसीसी वर्क की क्वालिटी को बेहतर करने और क्वांटिटी को कम करने का प्रयास किया। सीधे तौर पर इसे समझे तो 500 वर्ग फिट के
मकान के निर्माण में लगभग 5 लाख रुपए लागत आती है, इस निर्माण पर यदि रिसर्च के मुताबिक काम किया जाए तो यहीं लागत 50 से 60 हजार रूपए कम हो जाएगी। रिसर्च को भारत सरकार के कॉपी राईट कार्यालय से अनुमोदित करा लिया गया है। मोहित प्रजापति के अनुसार देश या दुनिया की कोई भी कंपनी कॉपी राइट के बाद अब इस रिसर्च को प्राप्त करने के लिए विवि से एग्रीमेंट कर सकेगी।