इंदौर। शहर कांग्रेस कमेटी (Congress Committee) के अध्यक्ष विनय बाकलीवाल की अध्यक्षता में शहर कांग्रेस इंदौर द्वारा गठित अनुशासन समिति की बैठक गुलेश्वर महादेव मंदिर प्रांगण एमटीएच कंपाउंड में दोपहर 1:00 बजे संपन्न हुई।

बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि जो भी कांग्रेस कार्यकर्ता या पदाधिकारी कांग्रेस प्रत्याशी के खिलाफ उम्मीदवार के रूप में फॉर्म भरेगा और चुनाव लड़ेगा उसे पार्टी 6 साल के लिए निष्कासित करेगी।

Also Read – Corona के कारण 31 दिसंबर तक पांच दिन तक खुलेंगे सरकारी दफ्तर

सोशल मीडिया पर कोई भी कांग्रेसजन ऐसी कोई भी पोस्ट वायरल करेगा जिसमें कांग्रेस पार्टी को नुकसान पहुंचता है, उस पर अनुशासनहीनता की कार्रवाई की जाएगी। प्रदेश कांग्रेस द्वारा अगर किसी भी पदाधिकारी की नियुक्ति की जाती है और उस नियुक्ति के खिलाफ कोई भी कांग्रेसी द्वारा सार्वजनिक बयान या विरोध प्रदर्शन करता है। यह कृत्य भी अनुशासनहीनता में आता है। उस पर अनुशासनहीनता की कार्रवाई की जाएगी। साथ ही सदस्यों ने यह भी कहा कि अगर किसी कांग्रेस जन को किसी भी नियुक्ति से कोई विरोध है।तो वह पार्टी फोरम में आकर अपनी बात रख सकता है। उसे किसी भी मीडिया के माध्यम से सार्वजनिक नहीं कर सकता।

बैठक में सर्वानुमति से निर्णय लिया गया की आयोजित बैठकों में मंच पर वरिष्ठता का ध्यान ना रखना भी अनुशासनहीनता में आएगा,कांग्रेस जन अपनी वरिष्ठता के आधार पर मंच पर उपस्थित होवे।

बैठक में मुख्य रूप से पंडित कृपा शंकर शुक्ला, रमेश यादव उस्ताद, राजेश शर्मा, सुरेश मिंडा, राजेश चोकसे, केके यादव, श्याम सुंदर यादव, शकुंतला बड़े, पीडी अग्रवाल, अनिल शुक्ला, प्रेम खड़ायता, अभय वर्मा, अमन बजाज, इम्तियाज बेलिम, सत्यनारायण सलवाड़िया आदि उपस्थित थे।

Also Read – Rajasthan के चुनाव परिणाम आए सामने, कांग्रेस की हुई जीत