शिवमहापुराण के छठे दिन भी उमड़ा भक्तो का सैलाब, पंडित प्रदीप मिश्रा ने बताए ये उपाय

विशाल नगर मैदान अन्नपूर्णा रोड पर आयोजित कथा वाचक पं. प्रदीप मिश्रा की शिवमहापुराण में जनसमूह उमड़ पड़ा। यहां प्रतिदिन हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचकर कथा का आनंद ले रहे हैं।

विशाल नगर मैदान अन्नपूर्णा रोड पर आयोजित कथा वाचक पं. प्रदीप मिश्रा की शिवमहापुराण में जनसमूह उमड़ पड़ा। यहां प्रतिदिन हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचकर कथा का आनंद ले रहे हैं। वहीं पंडित मिश्रा ने कथा के दौरान ही भक्तो को निवारण के उपाय भी बताए। जिसमे संकटों को दूर करने और मनोकामना को पूरा करने के तरीके शामिल है। वहीं श्रद्धालु भी उनके द्वारा बताए गए उपायों को करने में कोई कमी नहीं छोड़ रहे हैं।

Read More : मृणाल ठाकुर ने साड़ी पहन दिए कातिलाना पोज़, दिलकश अदाओं पर फिदा हुए फैंस

संस्था लक्ष्य द्वारा आयोजित कार्यक्रम में सीहोर वाले पंडित प्रदीप मिश्रा की शिव महापुराण कथा का आयोजन 24 जुलाई से 30 जुलाई तक प्रतिदिन दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक किया जा रहा है। आयोजक भरत पटवारी के मुताबिक कथा के लिए पांच पंडाल बनाए गए हैं। हर पंडाल में लगभग 50 हजार श्रद्धालु बैठ सकते है। जानकारी मिली है कि कुल ढ़ाई लाख श्रद्धालु तक इस कथा का आनंद ले रहे हैं।

Read More : इंदौर : क्राइम ब्रांच की गिरफ्त में अवैध मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले 2 आरोपी, जप्त की 132 ग्राम चरस

आयोजक भरत पटवारी ने बताया कि पंडित प्रदीप मिश्रा कथा के दौरान कैसे भोलेनाथ को प्रसन्न किया जाता है, उसके तरीके भी बता रहे है। साथ ही बिल्वपत्र आदि के माध्यम से भक्तों को विभिन्न समस्याओं के निवारण के बारे में बताते हैं। कथा में पंडित मिश्रा ने कहा कि सिर पर लितक लगाने व हाथ में जल का कलश लेकर मंदिर जाने में शर्म कैसी। लोगो का काम है हसना, लेकिन हमारा काम है भोले की भक्ति में मग्न हो जाना। हमें तो शिव की आराधना से मतलब है। वो सब देख रहा है।इसके साथ ही कथा में भक्तों को सावन मास में शिव की पूजा-अर्चना करने के कई उपाय व पूजा पद्धति बताई।