नए साल की शुरुआत करने भगवान महाकाल के आंगन में श्रद्धालुओं का जनसैलाब उमड़ गया है. उज्जैन में अभी से श्रद्धालु भगवान महाकाल का आशीर्वाद लेने के लिए पहुंच रहे हैं. महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति और जिला प्रशासन के साथ-साथ पुलिस ने भी श्रद्धालुओं की लगातार बढ़ रही भीड़ को देखते हुए व्यापक पैमाने पर इंतजाम किए हैं. महाकालेश्वर मंदिर में नववर्ष पर लाखों श्रद्धालु हर साल भगवान महाकाल का आशीर्वाद लेने पहुंचते हैं.

महाकालेश्वर मंदिर समिति ने किये ये इंतेज़ाम 

 

महाकालेश्वर मंदिर समिति के अध्यक्ष और कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि श्रद्धालुओं को लंबी कतार से बचाने की व्यवस्था की गई है. शीघ्र दर्शन के लिए ढाई सौ रुपए का टिकट ऑनलाइन बुक हो जाएगा. अधिक श्रद्धालुओं को कम समय में दर्शन कराने के भी व्यापक इंतजाम किए गए हैं. मंदिर के आसपास यातायात व्यवस्था को सुचारु बनाने में पुलिस का सहयोग लिया जा रहा है. श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए दूसरे धार्मिक स्थलों पर भी इंतजाम बढ़ाए गए हैं. नए साल के पहले दिन की भस्म आरती फुल हो गई है. महाकालेश्वर मंदिर समिति ने नंदीहाल और गर्भ गृह में प्रवेश पूरी तरह बंद कर दिया गया है. अधिक से अधिक भक्तों को दर्शन के लिए बैरिकेटिंग लगाई गई है. 

 

नए साल पर टूटेगा रिकॉर्ड 

महाकालेश्वर मंदिर में नववर्ष पर अभी तक डेढ़ से दो लाख श्रद्धालुओं की भीड़ दर्शन के लिए आ चुकी है. 6  लाख श्रद्धालुओं के दर्शन करने की उम्मीद जताई जा रही है. श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए महाकालेश्वर मंदिर समिति और जिला प्रशासन ने बड़े पैमाने पर तैयारी की जा रही है. महाकाल लोक  निर्माण के बाद पहले ही मंदिर में श्रद्धालुओं की भीड़ कई गुना बढ़ चुकी है. इस बार नए साल पर श्रद्धालुओं की भीड़ का रिकॉर्ड टूटने की संभावना है.