काम्प फिडर्स ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूटशन में राष्ट्रीय संगोष्ठी आयोजित, 148 शोध पत्र का हुआ वाचन

0

इंदौर। काम्प फिडर्स ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूटशन इंदौर में शोध में बहुआयामी दृष्टिकोण की उपादेयता विषय पर दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन दिनांक 11 एवं 12 जनवरी 2020 को किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ माँ सरस्वती की पूजा-अर्चना एवं दीप प्रज्वलित कर किया गया।

राष्ट्रीय संगोष्ठी के मुख्य अतिथि प्रभारी कुलपति डॉ अशोक शर्मा व विशेष अथिति डॉ अनिल कुमार शर्मा थे, राजेश व्यास, संस्था के संस्थापक अवधेश दवे, संचालक मधु दवे, निर्देशक दिव्यांश दवे एवं पुष्पराज मिश्रा उपस्थित थे राष्ट्रीय संगोष्ठी सत्र के निर्णायक मंडल की अध्यक्षता डॉ एम.डी सोमानी, डॉ निरंजन श्री वास्तव, डॉ भारती गीते, डॉ संजिदा इकबाल, द्वारा कि गई,

ड़ॉ शर्मा ने अपने उद्बोधन में शोधकर्ताओं को राष्ट्रीयहित अर्थिक विकास एवं सामाजिक कल्याण देश के विकास में शोध का महत्व बताया। संस्था के संस्थापक अवधेश दवे ने अपने उद्बोधन में शोध में नवाचार की अवश्यकता को समझाया। संगोष्ठी में राजस्थान गुजरात महाराष्ट्र उत्तर प्रदेश छत्तीसगढ़ जम्मू-कश्मीर उडीसा जैसे प्रमुख प्रदेशों के साथ साथ अन्य राज्यों के 180 शोधकर्ताओं द्वारा कुल 148 शोध पत्र का वाचन किया गया।

बेस्ट रिसर्च पेपर का अवार्ड डॉ नम्रता खंडेलवाल एवं डॉ अजय मिश्रा को दिया गया। अभार संस्था के निर्देशक दिव्यांश दवे द्वारा माना गया। कार्यक्रम का निर्देशन डॉ पुष्पराज मिश्र, रूपाकंन डॉ प्रकाशनी तिवारी, संचालन डॉ रितेश जैन, डॉ प्रिया त्रिवेदी एवं डॉ तरूणा शर्मा व डॉ दीपक तरेतीया द्वारा किया गया। संगोष्ठी के सफल आयोजन के लिए मधु जी अवधेश दवे ने समस्त शोधकर्ताओं महाविद्यालय परिवार को शुभकामनाएं प्रेषित कर बधाईया दी।