बालाकोट में फिर सक्रिय हो रहे आतंकी कैंप, कश्मीर में शून्य पर पहुंची आतंकी घटनाएं

पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी अपने शिविर फिर से सक्रिय और भारत के खिलाफ अपने धार्मिक और जिहादी निर्वासन पाठ्यक्रम को फिर से शुरू करने के प्रयास किए जा रहे हैं। भारतीय सरकार सीमाओं की रक्षा के लिए कदम उठाने के लिए प्रतिबद्ध है।

0
35
Terrorists

नई दिल्ली: पाकिस्तान एक बालाकोट में आतंकी कैंप फिर सक्रीय हो रहे है। इस बात की जानकारी गृह मंत्रालय ने खुद संसद में दी है। राज्यसभा में गृह राज्यमंत्री जीके रेड्डी ने जानकारी देते हुए कहा कि खुफिया सूत्रों से पता लगा है कि पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी अपने शिविर फिर से सक्रिय और भारत के खिलाफ अपने धार्मिक और जिहादी निर्वासन पाठ्यक्रम को फिर से शुरू करने के प्रयास किए जा रहे हैं। भारतीय सरकार सीमाओं की रक्षा के लिए कदम उठाने के लिए प्रतिबद्ध है।

शौचालय के मुद्दे पर जवाब देते हुए केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि हमारे पास शहरी क्षेत्रों में 60 लाख व्यक्तिगत घरेलू शौचालय बनाने का लक्ष्य था। लक्ष्य के विपरीत हमने पहले ही 67 लाख से अधिक शौचालय बनाए हैं। जहां तक ​​झुग्गियों और स्लम क्षेत्रों की बात है, जो आंकड़े उपलब्ध कराए जा रहे हैं, उसके लिए हम जिम्मेदार नहीं लेता क्योंकि जमीन राज्य का विषय है और प्रत्येक राज्य सरकार के पास उसके आंकड़े होते हैं।

जम्मू-कश्मीर पर कांग्रेस सांसद एस कोडिकुन्निल को जवाब देते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सुरक्षाबल और पुलिस समन्वय में काम कर रहे हैं और उचित कार्रवाई कर रहे हैं। जम्मू-कश्मीर की स्थिति सामान्य स्थिति में लौट रही है। अनुच्छेद 370 ख़त्म होने के बाद राज्य में आतंकी घटनाएं भी शून्य की ओर बढ़ रही है।

गौरतलब है कि कांग्रेस सांसद कोडिकुन्निल ने लोकसभा में जम्मू-कश्मीर का मुद्दा उठाते हुए कहा था कि जम्मू-कश्मीर के कई हिस्सों में आतंकवादी हमले हुए हैं।जम्मू कश्मीर में कहां सामान्य हैं ? सरकार सदन को गुमराह कर रही है। सरकार को बयान देना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here