जलमग्न हुआ अहिल्या घाट, सालों बाद दिखा ऐसा नजारा

लगातार हो रही बारिश के कारण नर्मदा का जल स्तर 149 मीटर हो गया। जबकि नर्मदा तट पर 140 मीटर सामान्य जल स्तर है, वहीँ 150 मीटर पर खतरे का निशान हैं।

0
ahilya ghat

खरगोन। ओंकारेश्वर और इंदिरा सागर बांध के गेट खोलने के बाद खरगोन जिले के महेश्वर सहित बड़वाह में नर्मदा नदी का रौद्र रूप देखने को मिल रहा है। नर्मदा के उफान पर होने से महेश्वर के अहिल्या घाट स्थित किले के गेट को बंद कर दिया गया है।

महेश्वर में नर्मदा के बीचो बीच स्थित बाणेश्वर मन्दिर भी डूब गया है। वहीँ अहिल्या घाट स्थित अष्ट पहलु की कई सीढ़िया भी जल मग्न हो गई है। सामने का घाट पूरी तरह से जलमग्न हो चुका है।

नर्मदा तट से पूरी दुकानों को खाली कराने के साथ ही नर्मदा पट्टी में भी जिला प्रशासन द्वारा अलर्ट घोषित कर रखा है। लगातार हो रही बारिश के कारण नर्मदा का जल स्तर 149 मीटर हो गया। जबकि नर्मदा तट पर 140 मीटर सामान्य जल स्तर है, वहीँ 150 मीटर पर खतरे का निशान हैं।