मध्यप्रदेश (Madhya pradesh) के पत्रा जिले में ब्रजपुर के थाना प्रभारी बखत सिंह ठाकुर कानून व्यवस्था की जिम्मेदारी संभालने के अलावा स्थानीय छात्रों को प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी भी कराते हैं। ये रोजाना सुबह 7 से 10 बजे तक करीब 300 छात्रों को पढ़ाने में जुट जाते हैं। बखत सिंह की मेहनत के परिणामस्वरूप एक साल में ही 30 छात्र चयनित होकर सरकारी अफसर और कर्मचारी बनने में सफल हुए हैं।

Must Read : Urvashi Rautela ने शार्ट ड्रेस पहन मचाई खलबली, फिगर पर टिकी फैंस की नज़र

उनके इस जज़्बे को मध्य प्रदेश शासन ने भी बखूबी सराहा है। इसे लेकर एमपी गवर्नमेंट के ऑफिसियल कू अकाउंट से, एक पोस्ट शेयर की गई, जिसमें बखत सिंह ठाकुर की निःस्वार्थ सेवाभावना का जिक्र किया गया है। सरकारी कू हैंडल से #PrideofMP के साथ बखत सिंह के सेवा कार्यों को एक फोटो क्रिएटिव के माध्यम से दर्शाया गया है।

बता दें कि पढ़ाने को लेकर ठाकुर का जज्बा इतना है कि उन्होंने थाना परिसर में ही अपनी तरफ से पौने तीन लाख रुपए खर्च करके दो क्लासरूम और एक लाइब्रेरी बनवा दी है। यहां तक कि फर्नीचर और किताबें भी अपने खर्च पर ही जुटाई हैं। बच्चों को पढ़ने के प्रति उनके इस हौसले को देखकर, अन्य साथी भी प्रोत्साहित हो रहे हैं। बच्चों को मेधावी परीक्षाओं की तैयारी कराने में अब उनके दो साथी आरक्षक भी मदद करने लगे हैं।