MP News: सूबे अधिकारियों को भी सौंपी चुनावों की जिम्मेदारी

Commission ban

भोपाल। भारत निर्वाचन आयोग ने मध्यप्रदेश सूबे के आईपीएस और आईएएस अधिकारियों को भी पांच राज्यों में होने वाले चुनावों की जिम्मेदारियां सौंपी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार आयोग ने प्रदेश के अधिकारियों को बड़ी जिम्मेदारी दी है। इनमें 45 आईएएस अधिकारियों को सामान्य पर्यवेक्षक तथा 15 आईपीएस अधिकारियों को पुलिस पर्यवेक्षक के साथ ही 17 आईएएस अधिकारियों को व्यय पर्यवेक्षक बनाकर तत्परता से कार्य करने के लिए कहा गया है। बीते दिन नरोन्हा प्रशासनिक अकादमी में इन सभी अधिकारियों को बुलाकर आयोग ने वर्चुअल रूप से प्रशिक्षण दिया। इस दौरान मौजूद मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने प्रशिक्षण के बाद पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में नियुक्त सभी अधिकारियों के साथ ही सभी केन्द्रीय पर्यवेक्षकों का भी स्वागत कर उन्हें शुभकामनाएं दी। 

ALSO READ: Indore: दोस्तों ने ही पार की हैवानियत की हद, गैंगरेप को दिया अंजाम

ऑंख-कान होते है पर्यवेक्षक

प्रशिक्षण के दौरान मौजूद मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने नियुक्त किए गए अधिकारियों से चर्चा की और उनसे प्रश्न भी पूछे। उन्हांेने यह भी कहा कि पर्यवेक्षकों की भूमिका चुनावों में महत्वपूर्ण होती है तथा ये पर्यवेक्षक चुनाव आयोग के लिए ऑंख  व कान की तरह होते है। चुनाव पूरी तरह से निष्पक्ष स्वतंत्र और पारदर्शी रूप से संपन्न हो इसलिए पर्यवेक्षकों की नियुक्ति होती है तथा इनकी सुरक्षित रूप से चुनाव कराने की अहम भूमिका भी रहती है। प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले सभी अधिकारियों से यह भी कहा गया है कि वे आचार संहिता में किसी भी तरह की होने वाली चूक के लिए विशेष रूप से सर्तकता बरतें।