MP News: 20 हजार की रिश्वत लेते पकड़ाए देवास जिले में फारेस्ट रेंजर, गिरफ्तार

देवास जिले में भ्रष्ट अफसरों पर लगातार कार्रवाई की जा रही है। दरअसल, दो दिन पहले ही उज्जैन लोकायुक्त की टीम ने जिले के भौंरासा नगर परिषद के अकाउंटेंट को 20 हजार के रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया था। वहीं अब कमलापुर में फारेस्ट रेंजर पर पर इओडब्ल्यू की टीम ने शिकंजा कसा है। ऐसे में टीम ने फारेस्ट रेंजर बिहारी सिंह को 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है।

जानकारी के मुताबिक, आरोपित रेंजर ने भील आमला के सरपंच डूगरसिंह से 25 हजार की रिश्वत मांगी थी। बताया जा रहा है कि रेंजर ने फरियादी से पट्टे की जमीन पर कपिलधारा योजना में कुआं खोदने, जमीन समतलीकरण सहित अन्य कार्यों के लिए एनओसी दिए जाने के एवज में 25 हजार की रिश्वत मांगी की जा रही थी जिसकी शिकायत पीड़ित ने टीम से कर दी।

वहीं आज पुलिस अधीक्षक इओडब्ल्यू उज्जैन दिलीप सोनी के मार्गदर्शन में डीएसपी ने टीम के साथ मिलकर कमलापुर पहुंचकर कार्रवाई की है। एसपी सोनी ने बताया कि मामले में अभी कार्रवाई जा रही है। बता दें कि जिले में लगातार इओडब्ल्यू और लोकायुक्त की कार्रवाई सामने आई है।

गौरतलब है कि दो दिन पहले ही टीम ने भौंरासा नगर परिषद के अकाउंटेंट हरिओम कछोले को 20 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया था। बता दे, अकाउंटेंट में पानी के बिल निकालने को लेकर कुल राशि की 40 प्रतिशत राशि रिश्वत के रूप में मांगी थी। ऐसे में शिकायत के बाद उज्जैन लोकायुक्त की टीम ने अकाउंटेंट को नगर परिषद में ही रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा था। वहीं कुछ दिन पहले देवास में पदस्थ मानचित्रकार विजय दरियानी के इंदौर स्थित घर पर इओडब्ल्यू ने छापा मारा था।